किसने कटवा दिया नामंकन के बाद राकेश पाल का टिकिट…

0
1067

बुंदेलखंड में पाल समाज के दिग्गज नेता राकेश पाल माने जाने वाले राकेश पाल का जालौन की कालपी सीट से सपा ने टिकट काट दिया. उन्होंने सोमवार को सपा की ओर से कालपी सीट के लिए उरई में नॉमिनेशन भी कर दिया था. इसके बाद भी उनसे वापस झाँसी जाने को कह दिया गया. उनके बदले पहले ही नॉमिनेशन कर चुकी कांग्रेस की सिटिंग विधायक उमा कांति को चुनाव लड़ने के लिए हरी झंडी दे दी गयी. राकेश पाल अब राजनैतिक संकट में फंस गये हैं इसके पीछे माना जा रहा है कि झाँसी इसकी मुख्य सूत्रधार है, झाँसी में पाल समाज का अच्छा खासा वोट बैंक है, जिले की गठबंधन सहित चारो सीटो पाल वोट निर्णायक हो सकता है, राकेश पाल को वापस झाँसी भेजने के पीछे कयास लगाये जा रहे है कि राकेश पाल के जरिये पाल वोट को अपने पाले में करना एक आविष्कार हो सकता है।

राकेश पाल समाज के दिग्गज नेता माने जाने वाले झाँसी के पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष रहे राकेश पाल राजनैतिक मुश्किल में हैं। सोमवार को नामांकन के बाद समाजवादी पार्टी ने उन्हें कालपी से वापस झाँसी जाने का आदेश दे दिया। उनकी जगह कालपी से सिटिंग विधायक उमा कांति को गठबंधन का प्रत्याशी घोषित कर दिया गया. उमा कांति पहले ही कांग्रेस की ओर से नॉमिनेशन कर चुकी थीं। पूरे जोश-खरोश के साथ चुनाव लड़ने गये राकेश पाल को वापस झाँसी लौटना पड़ रहा है. उन्होंने प्रचार प्रसार भी शुरू कर दिया था. सपा-कांग्रेस गठबंधन के बीच फंसे राकेश पाल के राजनैतिक करियर को बेहद ठेस पहुंची है. उनकी साख को धक्का लगा है. अब देखना होगा कि क्या राकेश पाल अब दुसरो के लिए अपने समाज का वोट मांग पाएंगे।

NO COMMENTS