मायावती के भाई की संपत्ति जानकर हो जाओगे हैरान……

0
216

प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के भाई आनन्द कुमार की सम्पत्ति में 1300 करोड़ रुपये के इजाफे की जानकारी सार्वजनिक होने पर कांग्रेस ने कहा है कि भाजपा अपने उन नेताओं की जानकारी सार्वजनिक करे, जिनके पास से भारी मात्रा में कालाधन पकड़ा गया है। कांग्रेस ने कहा कि मायावती के भाई की सम्पत्ति की जानकारी सिर्फ चुनावी मकसद से लीक की गई है और यह भाजपा की शर्मनाक हरकत है।
कांग्रेस प्रवक्ता मीम अफजल ने कहा कि काला धन किसी के भी पास हो, वे इसका विरोध करते हैं लेकिन कानून सबके लिए एक जैसा ही होना चाहिए। उन्होंने कहा कि ये आंकड़े यूपी चुनाव को लेकर जारी किए गए हैं और इसके पीछे की सरकार की सोच नकारात्मक है। कांग्रेस नेता की यह टिप्पणी उस खबर के बाद आई है, जिसमें यह कहा गया कि मायावती के भाई आनन्द कुमार की सम्पत्ति में 1300 करोड़ रुपये का आश्चर्यजनक इज़ाफ़ा हुआ है। जानकारी के अनुसार आनन्द की सम्पत्ति में ये इजाफा उस समय के दौरान हुआ जब खुद मायावती मुख्यमंत्री हुआ करती थी। यानी यह समय 2007 से लेकर 2014 तक का है।
यूपी के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला
बता दें कि मायावती 2007 में मुख्यमंत्री बनी थीं लेकिन मार्च 2012 में उन्हें सपा नेता अखिलेश यादव के हाथों सत्ता गंवानी पड़ी थी। मायावती पर अवैध रूप से सम्पत्ति जमा करने के अनेक आरोप लग चुके हैं और इन मामलों की जांच सीबीआई के द्वारा भी करवाई जा रही है। मायावती के शासनकाल में स्वास्थ्य विभाग में हुआ एनआरएचएम घोटाला यूपी के राजनीतिक इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा घोटाला माना जाता है। इस मामले में मायावती के तत्कालीन ख़ास सहयोगी बाबू सिंह कुशवाहा पर अंगुली उठी थी। कहा जाता है कि मायावती के इशारे पर बाबू सिंह ने उच्च अधिकारियों की मिलीभगत से बड़ा घोटाला किया। बता दें कि इस मामले की हुई जांच में पकड़े गए कई सीएमओ ने जेल के ही अंदर कथित रूप से आत्महत्या कर ली थी।

NO COMMENTS