मुख्यमंत्री जी एक नजर मेडिकल कॉलेज पर भी

0
105

r1 001_0001-1

यह है झांसी मेडिकल कॉलेज जहां बुंदेलखंड और आसपास के इलाकों से मरीज इलाज के लिए यहां आते हैं और मेडिकल कालेज में अपना इलाज करवाते है ओर जरूरत पड़ी तो ऑपरेशन भी करवाते हैं
r1 001_0003
मगर ऑपरेशन के दौरान मरीज के परिजनों को ऑपरेशन थ्रेटर के बाहर जमीन पर ही ऐसे बैठे रहते हैं मानो जैसे लोग फुटपाथ बैठे हो कहने को तो मेडिकल कॉलेज एम्स की तर्ज पर अपग्रेड करने पर विचार चल रहा है, इतना ही नहीं मेडिकल कॉलेज में 500 बेड की बिल्डिंग तैयार हो रही है मोडलर ओटी भी तैयार है जहां पीड़ित मरीज का ऑपरेशन होता है मगर ओटी के बहार मरीज के परिजन को बैठने के लिए ना तो किसी प्रकार की बेंच उपलब्ध है न ही बोशरुम जब तक मरीज का ऑपरेशन चलेगा कब तक मरीज के परिजन इन्तजार में इसी तरीके से जमीन पर बैठे नजर आते हैं जब हमने परिजनों से बात की तो बताया कि ना तो यहां बैठने की सुविधा है ना यह पानी की सुविधा है दूरी के कारण लोगों को भीषण गर्मी में पानी के लिए भी दूर जाना पड़ता है, मुख्यमंत्री का दौरा आगामी 16 अप्रैल को झांसी है इसे पूर्व 13 अप्रैल को मुख्यमंत्री जालौन के उरई का भी दौरा कर रहे हैं मुख्यमंत्री उरई मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण भी करेंगे मुख्यमंत्री के आने से पहले ही उरई मेडिकल कॉलेज के प्रिंसपल को बदल दिया गया और व्यवस्थाएं चाक चौबंध की जा रही है 16 अप्रैल को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने नर्धारित कार्यक्रम से अचानक झांसी मेडिकल कॉलेज जो लंबे समय से चर्चा का विषय बना रहा है का भी निरीक्षण कर सकते हैं ऐसे में इस प्रकार की मरीजों को होने वाली असुविधाएं अगर मुख्यमंत्री की नजर आ गई तो संबंधित पर गाज कितना तय है , इस सम्बन्ध में एक प्रतिनिधि मंडल मुख्यमंत्री को कालेज से सम्बंधित समस्याओ और परेशानियों पर ज्ञापन भी देने जा रहा है

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY