ENT के निशुल्क स्वास्थ शिविर में मुफ्त बांटी ध्वनि यंत्र और दवाईयां .

0
162
मरीजो को दवा वितरण टीम
मरीजो को दवा वितरण टीम

@ विश्वभूषण नायक
झाँसी:- अभी तक हमने डॉक्टरों की बुराइयां तो खूब सुनी आये दिन खबरे आती है डॉक्टर और मरीज में झगड़ा मगर ,पांचों उंगलियां एक समान नही होती , ऐसा एक कैंप में देखा गया प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी झाँसी में नाक,कान,गले ENT की बीमारी से संवन्धित मरीजो के लिए वीरांगना नगर में कैम्प आयोजित किया गया,  ENT विशेषज्ञ  डॉक्टर हरेन्द्र के कैंप का लाभ झाँसी सहित बुंदेलखंड के सैकड़ो लोगो ने लिया नाक,कान,गले की समस्या से पीड़ित लोगो ने निशुल्क लाभ लिया कैम्प में जिन लोगो को कान में सुनने में अधिक परेशानी पाई गई ऐसे 12 लोगो को ध्वनि यंत्र मुफ्त प्रदान किये गए, और कैम्प में आये लगभग 364 लोगो को उनकी बीमारी के अनुसार 3,5,7 से 15 दिनों की मुफ्त दवाइयां दी गई, छतरपुर मध्य प्रदेश से आई राखी कान बहने की समस्या से कई महीनो से परेशान थी बहुत इलाज कराया मगर समस्या में कुछ खास लाभ नही हुआ मगर 15 दिन पहले डॉक्टर साहब को दिखया और उनकी दवा से लाभ हुआ, वही महोबा के एक किसान भगवानदास जिन्हें कम सुनाई देता था उनको सुनने बाली मशीन दी इसी प्रकार 11 अन्य लोगो को मशीन दी गई, निशुल्क कैंप में आये लोगो ने डॉक्टर की खूब बाहवाही की झाँसी के 80 वर्षीय पठोरिया निवासी  रामस्वरूप अपने बेटे के साथ कैम्प में दिखाने आये उनका कहना था कि (बुंदेली भाषा में) ” अगर ऐसे डॉक्टर हमाये अस्पतालन में आ जाये तो कितेक अच्छो हो जाये.. भलो हो तुम्मओ”
इस कैम्प के बारे में आयोजक डॉक्टर हरेन्द्र ने बताया कि  पिछले कई  वर्षो से कैम्प का आयोजन हो रहा है और आगे भी जारी रहेगा, उन्होंने कहा कि  बरसात  के मौसम में कान में पानी ना जाने दें , तंबाखू के सेवन कारण सबसे ज्यादा केस गले और मुँह के कैंसर के आते है जिसमे इलाज में देरी और अनदेखी घातक होती है, गले की अन्य समस्या के लिये नमक हल्दी के गुनगुने पानी से गरारे करे और चिकित्सक से परामर्श लें, अपने निशुल्क इलाज को वो अपना धर्म और फर्ज मानते है , ऐसे में प्रदेश सरकार को चईये की मरीजो के प्रति ऐसे भाव रखने बाले डॉक्टरों को सरकारी अस्पतालों और मेडिकल कालेजों में तैनात करना चईये ।
IMG-20180730-WA0001

NO COMMENTS