10 जून से 31 जुलाई तक के लिए धारा 144 लागू उल्लंघन किया तो 188 के तहत मिलेगी सजा

0
256

भीषण गर्मी का सामना कर रहे जनपदवासी यदि बिजली,  पानी आदि बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए धरना-प्रदर्शन करेंगे तो इसके लिए उन्हें सम्बंधित अधिकारी से पूर्व अनुमति लेनी होगी। विभिन्न राजनैतिक व गैर राजनैतिक दलों के प्रदर्शन में असामाजिक तत्व शामिल होकर शान्ति एवं कानून व्यवस्था न भंग कर सकें इसके लिए जिला प्रशासन ने आगामी 31 जुलाई तक धारा 144 लागू करने का निर्णय लिया है। इस दौरान कोई भी व्यक्ति किसी भी प्रकार हथियार व लाठी डण्डा आदि लेकर नहीं चल सकेगा।

अपर जिला मजिस्ट्रेट राजाराम ने बताया कि समय-समय पर असामाजिक तत्वों द्वारा देश व प्रदेश के विभिन्न रेलवे स्टेशनों, बस स्टैण्डों के अलावा महत्वपूर्ण स्थानों में आतंकवादी घटनाओं के अलावा नक्सली व अन्य प्रकार की गतिविधियों को अंजाम देते हुए सरकारी संपत्ति को नुकसान तो पहुंचाया ही जा रहा है साथ ही साथ निर्दोष लोग भी उनका शिकार हो रहे हैं। इसके अलावा भीषण गर्मी के दिनों में  बिजली व पानी मूलभूत सुविधाओं की समस्याओं को लेकर   विभिन्न राजनैतिक व गैर राजनैतिक दलों द्वारा आए दिन धरना एवं प्रदर्शन किया जाता है। जिसमें उपद्रवी लोग शामिल हो शान्ति एवं कानून व्यवस्था भंग करते हैं। इसी को देखते हुए शासन के निर्देश पर 10 जून से 31 जुलाई 10 तक जिले में धारा 144 लागू की गई है। अपर जिला मजिस्ट्रेट राजाराम ने बताया कि इस दौरान कोई भी व्यक्ति आग्नेयास्त्रा, लाठी, चाकू, हाकी आदि लेकर नहीं चल सकेगा और न ही ईंट, पत्थर व रोड़े आदि किसी स्थान पर इकट्ठा करेगा। इसमें वृद्धजनों को लाठी आदि लेकर चलने में छूठ प्रदान की गई है। इसके अलावा लाउडस्पीकर का प्रयोग करने, धरना, प्रदर्शन व जुलूस आदि निकालने के लिए भी जिला मजिस्ट्रेट, परगना मजिस्ट्रेट की पूर्व अनुमति लेनी होगी। इसी तरह यदि कोई राजकीय संपत्ति को नुकसान पहुंचाता पाया गया तो उसके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने बताया कि इस अवधि में सार्वजनिक स्थान पर दारू आदि मादक पदार्थों का सेवन कर हंगामा मचाने वालों, जुआ आदि खेलने वालों, दंगा फसाद करने वालों, एसिड व विस्फोटक पदार्थों का भण्डारण करने वालों आदि के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि जो कोई भी इसका उल्लंघन करेगा उसे धारा 188 के तहत दण्डित किया जाएगा।