हाय ये महगाई खाए जात है

0
230

बरसात की शुरुआती दस्तक में महंगाई का रंग सुर्ख होने लगा है। यातायात व्यवस्था ठप होने एवं आवक घटने के कारण खाद्य पदार्थों के दामों में उछाल शुरू हो गया है। जल्दी खराब होने वाली सब्जियों के मूल्य राकेट की तरह तेजी से ऊपर जा रहे हैं, जबकि राशन व मसाले सुस्त गति से चल रहे हैं।

हरी सब्जियों की देखा – देखी कई दिनों तक टिकने वाले आलू व प्याज भी दो – दो रुपये महंगे हो गए हैं। सब्जियों के स्वाद को चटपटा बनाने वाला टमाटर दोगुने दाम पर मिल रहा है। जाते – जाते तोरई दोगुने दाम पर मिलने लगी है। गोभी, भिंडी, लौकी, कद्दू व बैंगन के मूल्य में पांच से दस रुपये का उछाल आया है। बाजार के जानकारों की मानें तो बरसात का सीजन सब्जियों के लिए आफ सीजन होता है। अभी से शुरू होने वाली तेजी अगस्त – सितंबर तक बनी रहेगी।

इधर, छह माह में राशन के मूल्य में तेजी के कारण मध्य वर्ग की कमर टूट गई है। सामान्य श्रेणी के चावल के दाम में पांच से दस रुपये, रिफाइंड में तेरह रुपये, सरसों तेल में पंद्रह रुपये, दाल में छह रुपये, चीनी में एक रुपये व आटा में दो रुपये का उछाल आया है। खाद्य पदार्थों में सबसे ज्यादा तेजी गरम मसालों में है। लाल मिर्च के मूल्य में पच्चीस प्रतिशत, लौंग में पचास प्रतिशत, जीरा में बीस फीसदी, काली मिर्च में चालीस प्रतिशत एवं जायत्री में बीस प्रतिशत की तेजी दर्ज की गई है। धनिया का मूल्य छह माह में दोगुना हो गया है।
———-

सब्जी – 17 जून – 24 जून
आलू 8 – 10
प्याज 10 – 12
टमाटर 15 – 30
गोभी 50 – 60
तोरई 10 – 20
भिंडी 20 – 25
लौकी 10 – 15
कद्दू 10 – 15
बैंगन 15 – 20
————-
राशन जनवरी – जून
चावल सामान्य 15 – 30 – 20 – 40
तेल रिफाइंड 52 -58 – 65- 70
तेल सरसों 53- 60 – 67 – 70
चना दाल 26 – 32
चीनी 31 – 32
आटा 13 – 15
————-
मसाले जनवरी – जून
लाल मिर्च 100 – 120
धनिया 340 – 660
लौंग 50 – 70
जीरा 150 – 175
काली मिर्च 240 – 340
जायत्री 1200 – 1600
नोट ः सभी के फुटकर मूल्य, रुपये प्रति किलोग्राम

Vikas Sharma
Editor
www.upnewslive.com ,
www.bundelkhandlive.com ,
E-mail : vikasupnews@gmail.com,
editor@bundelkhandlive.com
Ph- 09415060119