स्कूल चलें हम अभियान में जनप्रतिनिधियों की भागीदारी

0
246

सागर- सर्व शिक्षा कार्यक्रम के स्कूल चले हम अभियान में मंत्री, सांसद, विधायक जिला पंचायत अध्यक्ष, जनपद अध्यक्ष, महापौर और नगर पालिका अध्यक्षों की भागीदारी होगी। सभी बच्चों का स्कूलों में दाखिला सुनिश्चित कराने के मकसद से यह अभियान 29 जून से 14 जुलाई तक चलेगा। इसकी शुरुआत 29 जून को जिले के 1900 से अधिक गांवों में शिक्षा चौपाल से होगी।

जिसमें पालक शिक्षा संघ के अध्यक्ष, सदस्य, शिक्षक, सरपंच, सचिव और अन्य विभागों के कर्मचारी मौजूद रहेंगे। अभियान के तहत 30 जून से 7 जुलाई तक सर्वे दल के सदस्य घर-घर जाकर छह से 14 वर्ष तक के बच्चों का सर्वेक्षण करेंगे। इस बार सर्वे में पांचवीं और आठवीं कक्षा के विद्यार्थी भी टीम के साथ रहेंगे। सर्वे का काम प्रतिदिन स्कूल बंद होने के बाद ही शुरू होगा जिससे प्राइमरी और मिडिल स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई प्रभावित न हो। स्कूल चलें हम अभियान में जन प्रतिनिधियों के अलावा विभिन्न धर्मो, समुदायों और स्वैच्छिक संगठनों के प्रतिनिधियों की भागीदारी होगी। अभियान के तहत 1 जुलाई को स्कूल में पालक शिक्षक संघ की बैठक होगी।

इस दौरान पंचायत प्रतिनिधियों की मौजूदगी में प्रवेशोत्सव मनाया जाएगा। स्कूल में दर्ज नए बच्चों को मुफ्त किताबें बटेंगी। स्कूल त्यागी और अप्रवेशी बच्चों को फिर से स्कूल में दाखिला दिलाने के लिए शिक्षकों एवं समुदाय के लोगों के उत्तर दायित्व का निर्धारण किया जाएगा।

ऐसे पालकों को सम्मानित किया जाएगा। जो स्कूल त्यागी बच्चों को फिर से स्कूल में दाखिल कराएंगे। घर पर अपने छोटे भाई-बहनों की देखभाल करने के लिए बच्चे स्कूल जाना बंद कर देते है। इसके अलावा आर्थिक कारणों से बच्चे बीच में पढ़ाई बंद कर देते है। ऐसे बच्चों का स्कूलों में फिर से दाखिला कराने के लिए स्कूल चलें हम अभियान चलाया जा रहा है।