सामूहिक पुरुषार्थ से ही गांव में परिवर्तन की बयार- नानाजी देशमुख

0
237

चित्रकूट- दीनदयाल शोध संस्थान के कार्यकर्ताओं का अभ्यास वर्ग प्रारंभ हुआ। उद्यमिता विद्यापीठ के डा. राममनोहर लोहिया सभागार में गनीवां, मझगवां व चित्रकूट के कार्यकर्ताओं के साथ शुरू हुये तीन दिवसीय अभ्यास वर्ग में संस्थान के संस्थापक नानाजी देशमुख ने कहा कि सामूहिक पुरुषार्थ से ही गांव में परिवर्तन की बयार चल रही है। इसको बनाये रखने के लिये कार्यकर्ताओं को मैत्री, स्नेह, एकात्मता व सद्भावना से कार्य करना पड़ेगा। प्रधान सचिव डा. भरत पाठक ने कहा कि संस्थान चित्रकूट क्षेत्र के सर्वागीण विकास के लिये कार्य कर रहा है। गांव का प्रत्येक परिवार आत्मनिर्भर बने। उद्यमिता विद्यापीठ की निदेशक डा. नंदिता पाठक ने कहा कि कार्यकर्ताओं के कार्य में सहज वृत्ति का निर्माण संस्था के विकास के लिये जरूरी है। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ मध्य क्षेत्र के क्षेत्र कार्यवाह माधव बसंत, महाकौशल प्रांत के प्रांत संघ चालक शंकर प्रसाद व श्री कृष्ण माहेश्वरी ने कहा कि संस्थान द्वारा पांच सौ स्वावलंबी गांवों में चल रहा स्वावलंबन का कार्य अनुकरणीय है। यह प्रयोग अब विश्व के कई हिस्सों में होना शुरू हो गया है।