सागर झील में सिघाड़े की खेती बंद करने का निर्णय

0
266

सागर- सागर झील संरक्षण योजना के प्रस्तावित कामों में कसावट लाने के लिए शुक्रवार को कमिश्नर एसके वेद ने क्षेत्र के जन प्रतिनिधियों और अधिकारियों की बैठक ली। श्री वेद ने रैलिंग और पाथ-वे का काम 30 सितंबर तक पूरा करने के निर्देश दिए हैं। श्री वेद के कक्ष में आयोजित बैठक में निर्णय लिया गया कि सीवेज ट्रीटमेंट और सीवर लाइन बिछाने के लिए बुलाई गई निविदाओं को निगोशियेशन किया जाए। निगोशियेशन करते समय गोवा एवं मुंबई में किए गए कार्यों की दरों के साथ-साथ लोक निर्माण विभाग के निर्धारित मापदंडों को भी शामिल किया जाए।

बैठक में विधायक शैलेंद्र जैन ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान सागर शहर को आदर्श नगर बनाने के प्रयास कर रहे हैं। विकास की रूपरेखा तय करने के लिए मुख्यमंत्री एक दिन सागर में रहेंगे। उनके आने का कार्यक्रम शीघ्र तय किया जाएगा। बैठक में निर्णय लिया गया कि झील में सिंघाड़े की खेती को बंद की जाए एवं मछली का बीज डालने की कार्रवाई शीघ्र की जाए। समीक्षा के दौरान निगम आयुक्त रत्नाकर सिंह चौहान ने बताया कि सुलभ इंटरनेशनल संस्था से शहर में 4 सुलभ शौचालय बनाने का निर्णय लिया गया है।संस्था को 40.80 लाख रुपए अग्रिम दिए जा चुके है इसके अलावा काकागंज, रानीपुरा और गोपालगंज में सुलभ काम्पलेक्स का काम पूरा कर लिया गया है। तिली गांव के निमार्णाधीन काम्पलेक्स का काम 15 अक्टूबर तक पूरा हो जाएगा। बैठक में निर्णय लिया गया कि काम में तेजी लाने के लिए तकनीकि समिति की बैठक अगले सप्ताह बुलाई जाए तथा कार्यों की समीक्षा करने मानीटरिंग समिति की बैठकअक्टूबर के पहले सप्ताह में बुलाई जाए। बैठक में विधायक शैलेंद्र जैन, महापौर प्रदीप लारिया, प्रभारी कलेक्टर आरके त्रिपाठी, आयुक्त श्री चौहान और नगर निगम कंसलटेंट उपस्थित थे।