समान कार्य, तो मिले समान वेतन

0
112

झांसी- बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में दस वर्ष से स्ववित्त पोषित योजना के अन्तर्गत कार्यरत शिक्षकों में वेतन को लेकर सुलग रही चिंगारी भड़क उठी। समान कार्य और समान वेतन के भेदभाव को लेकर गुस्साए शिक्षकों ने आज काली पट्टी बांधकर कार्य बहिष्कार किया। इससे विभागों में सन्नाटा पसरा रहा।

बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में आज सुबह से ही आए एसएफएस शिक्षकों के बाजुओं पर काली पट्टी बंधी हुई थी। सुबह विज्ञान भवन के पास समस्त शिक्षक एकत्र हुए और नारेबाजी करते हुए अन्य विभागों में गए और बाकी शिक्षकों से कार्य से विरत रहने का आह्वान किया। इसके बाद डॉ. महेश दत्त की अध्यक्षता में बैठक हुई, जिसमें पांच सितम्बर को दोपहर 12 से 1 बजे तक प्रशासनिक भवन के सामने धरना-प्रदर्शन की रूपरेखा बनायी गयी। शिक्षकों ने समान कार्य करने के बावजूद भी असमान वेतन दिए जाने पर रोष जताया। उन्होंने विश्वविद्यालय प्रशासन पर एसएफएस से आने वाले धन का अन्य मदों में गलत तरीके से दुरुपयोग किए जाने का आरोप लगाया। बैठक में डॉ. रेखा, इकबाल खान, अनिल दीक्षित, संदीप वर्मा, पी.के.पाण्डेय, अनु सिंगला, राजकुमार, नीता यादव, किरन शर्मा, पूनम शर्मा आदि उपस्थित रहे।

NO COMMENTS