संचालकों को पुरानी बसों के मामले में नोटिस जारी

0
234

ग्वालियर- जिला प्रशासन की निगाह अब स्कूल-कालेजों में उपयोग की जा रही पुरानी बसों पर है। ये पुरानी बसें बच्चों के जीवन के लिए खतरा मानी जा रही हैं। परिवहन अधिकारी ने स्कूल-कालेज संचालकों को इस मामले में नोटिस जारी कर दिए हैं। इसके पहले पुराने टेम्पो भी शहर से बाहर करने की कार्रवाई परिवहन विभाग कर चुका है।

सड़क सुरक्षा समिति की पिछले माह हुई बैठक में कुछ सदस्यों ने स्कूल-कालेजों में दस साल पुरानी बसों के उपयोग पर आपत्ति दर्ज कराई थी। सदस्यों का मानना था कि इससे न केवल शहर में प्रदूषण फैलता है बल्कि बसों में सुविधाएं न होने से छात्र भी परेशान होते हैं। समिति के अन्य सभी सदस्यों ने भी इस सुझाव का समर्थन किया और तय हुआ कि जिले के सभी स्कूल-कालेजों में दस साल पुरानी बसों से छात्र-छात्राओं को लाने ले जाने पर प्रतिबंध लगा दिया जाए। समिति के इस निर्णय पर अमल करते हुए क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी अशोक सिंह राठौर ने सोमवार को कार्रवाई की।

उन्होंने शहरी क्षेत्र में स्थित 25 से अधिक स्कूल-कालेज संचालकों को नोटिस भेजकर कहा है कि वे पुरानी हो चुकीं (दस साल से अधिक) बसों का उपयोग प्रतिबंधित कर दें। श्री राठौर ने बताया कि फिलहाल बसें हटाने के लिए कोई समय सीमा तय नहीं की गई है पर जल्द समिति की बैठक में हुए निर्णय पर अमल किया जाएगा। परिवहन अधिकारी का नोटिस सोमवार को कुछ स्कूल व कालेज संचालकों को मिल गया