वीरों की इस धरती पर कर्ज से जूझ रहा किसान आत्महत्या के लिए मजबूर है

0
48

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं चुनाव समिति के अध्यक्ष कलराज मिश्र आज बुंदेलखण्ड प्रवास के दौरान कहा कि बंुदेलखण्ड धरती वीरों की जननी है। स्वाभिमानी धरती बंुदलेखण्ड अपने स्वाभिमान की रक्षा के लिए अपना सर्वत्र न्योछावर कर सकती है। वीरों की इस धरती पर कर्ज से जूझ रहा किसान आत्महत्या के लिए मजबूर है जिसके लिए उत्तरदायी केन्द्र व प्रदेश सरकार है।

श्री मिश्र ने आज अपने बुंदेलखण्ड प्रवास के दौरान महोबा जनपद के कबरई गांव में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहाकि पूरे बुंदेलखण्ड का लघु सीमान्त कृषक कर्ज में डूबा हुआ है। केन्द्र सरकार आश्वासनों का अम्बार लगाकर बंुदेलखण्ड की जनता के साथ विश्वासघात कर रही है। 7 वर्षों में 400 किसानों ने आत्महत्या की जिसके जिम्मेदार केन्द्र व प्रदेश सरकार दोनों ही हैं। उन्होंने कहाकि बुंदेलखण्ड के लोग लालायित होते हैं कि हमें पैकेज मिलेगा। लेकिन वह श्वास लेकर रह जाते है। श्री मिश्र ने बताया कि बुंदेलखण्ड का किसान त्राहि-त्राहि कर रहा है। खरीफ और रबी आदि की फसलें नहीं हो पा रहीं हैं क्योंकि बंुदेलखण्ड का हर एक 4-5 हेक्टेअर तक का किसान कर्ज से डूबा है। किसान मेहनत करके खेती तो करता है लकिन उसकी लागत नहीं मिलती है। बिचैलियों द्वारा खरीदा जा रहा गेहूं का मूल्य 900 रूपये जबकि 1170 रूपये सरकारी मूल्य पर खरीदना चाहिए। मनरेगा में कार्य करने वाले किसान मजदूरी तो करते हैं लेकिन उसका पैसा बैंक में नहीं पहंुचता है।

उन्होंने केन्द्र सरकार पर सीधे आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार द्वारा घोषणा कर दी जाती है कि किसानों को बिजली, पानी, खाद आदि की सुविधा दी जाए लेकिन सरकारी नीति एक राजनीति बनकर रह जाती है। करोड़ों अरबों रूपये सरकार द्वारा भ्रष्टाचार को सौंप दिया जाता है लेकिन उचित मुआवजा किसानों को नहीं दिया जाता है। श्री मिश्र ने बताया कि भट्टा पारसौल गांव मंे 5500 लोगों का पता नहीं है जबकि राहुल गांधी ने बताया कि 76 किसान ही मरें हैं। भट्टा में 4200 सौ मतदाता हैं जिनमें से केवल 1900 लोग ही बचे हंैं। बाकी सब लोग कहां गये। मैं मांग करता हूं कि स्थाई शिटिंग जज द्वारा उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए। श्री मिश्र ने प्रदेश सरकार की जमकर आलोचना करते हुए कहा कि यह सरकार भ्रष्टाचारी है जो किसानों का शोषण कर रही है। जनता का पैसा पत्थर की मूर्तियों पर खर्च कर रहीे है।

उन्होने कार्यकर्ता सम्मेलन में कहा कि अपनी विजय की प्राथमिकता के साथ संकल्प लेकर बूथों व गांव में जाकर जनसमस्या सुने और उनके लिए संघर्ष करें।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

NO COMMENTS