विधानसभा चुनाव 2012 में नया विकल्प देने के लिये गठबंधन किया है

0
190

bundelkhand-photoपाँच करोड़ बुन्देलखंडीयों की अभिलाषा के मुद्देनजर बुन्देलखंड कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव 2012 में नया विकल्प देने के लिये गठबंधन किया है। बुन्देलखंड राज्य के नाम पर कभी ठगते रहे तो कभी पुचकारते रहे राजनैतिक दलों को सबक सिखाने और बुन्देलखंड के राज्य के सपनें को आजादी के 66वर्ष कें बाद पूर्ण करने कें लिये बुन्देलखंड कांग्रेस जनता के सामने सीधे चुनावी मैदान में उतर रही है। गांधीवादी रास्ते से वर्षो के संघर्ष के बाद भी बुन्देलखंड राज्य का सपना कभी पूर्ण होता दिखता तो कभी काले वादल छाने लगते। इन कारणों को दूर करने के लिये तथा जनता को एक विकल्प देने की कोशिश में बुन्देलखंड कांगे्रस का गठन किया गया है। बुन्देलखडींयो के साथ सभी ने धोखा किया है। बुन्देलखंड में कारखानों के नाम पर मौत के कारखाने लगाये जा रहे है। 90 के दशक तक बुन्देलखंड में खनिज तथा गौणखनिज के प्रत्येक जिले में दो हजार से तीन हजार के बीच खनिज पट्टे हुआ करते थे आज दो-तीन लोगों के बीच रह जाने के कारण पाॅच लाख बुन्देलखंडी बेरोजगार हो गये है। और दाने-दाने के लिये मोहताज है। बुन्देलखंड पैकेज बसपा मंत्रियों के लूट का पैकिज बन गया है। कांग्रेस भी लूट को खुला समर्थन देती रही। सपा ने बुन्देलखंडीयों पर इतने जुल्म ढाये कि डर के मारे लाखों लोग पलायन कर गये। बुन्देलखंड की अस्मिता को बचाने के लिये अपनी धरती अपना राज्य के नारे के साथ बुन्देलखंड वासियों की अपनी सरकार देने का सपना साकार करेंगे। दर्द बड़ा गहरा है, सत्ता का पहरा है, हाकिम बना लुटेरा, दिखता यही चेहरा है। इस अवसर पर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चैधरी रणवीर सिंह ने बताया कि बुन्देलखंड में पार्टी माधवगढ़, कालपी, उरई, बबीना, झांसी, गरौठा, ललितपुर, मेहरौनी, राठ, महोबा, चरखारी, तिदंवारी, बबेरू, चित्रकूट, हमीरपुर सहित 15 स्थानों पर समझौते के आधार पर अपने प्रत्याशी खडा करेगी तथा बुन्देलखंड की 19 में चार सीटें सहयोगी दल पीस पार्टी तथा अपना दल को दी गयी है। राष्ट्रीय प्रवक्ता अशोक शर्मा ने स्पष्ट किया कि सौ बीमारियों का एक इलाज अपना बुंन्देलखंड राज के नारे के साथ बुन्देलखंड कांग्रेस चुनावी समर में उतर रही है। बुन्देलखंड कांग्रेस बुन्देलखंड में किसानों, मजदूरों, बेरोजगारों की आवाज बन गयी है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

NO COMMENTS