लोक अदालत में 1946 लोग हुए लाभान्वित

0
244

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में कचेहरी प्रांगण में लोक अदालत व विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन किया गयां जिसमें 414 मुकदमों का निस्तारण किया गया। इस मौके पर लोगों को कानून के सम्बंध में विभिन्न जानकारियां दी गईं।

रविवार को जिला जज गौरचन्द की अध्यक्षता में आयोजित इस लोक अदालत मेंसिविल जज सुभाष चन्द ने उत्तराधिकार के 7 वाद निस्तारित करते हुए 7 लाख17 हजार 7 सौ 81 रुपये के उत्तराधिकार प्रमाणपत्रा निर्गत किए। इसमें27 लोगों का लाभ पहुंचा। इसीप्रकार त्वरित न्यायालय द्वितीय के विद्वान न्यायाधीश लाल चन्द्र द्वारा 6 मुकदमें का निस्तारण किया गया। जिससे 31 लोग लाभािन्वत हुए। मुख्य न्यायायिक मजिस्ट्रेट वीरेन्द्र कुमार पाण्डेय ने 154 मुकदमें निपटाते हुए 9 हजार 555 रुपये का अर्थ दण्ड वसूलस किया। कमलेश कुमार अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट द्वारा 52 वादों को निस्तारण करते हुए 15495 का अर्थदण्ड वसूल किया गया। इसी प्रकार न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम विजय कुमार विश्वकर्मा ने 1, न्यायायिक मजिस्ट्रेट सुश्री मंजू राजपूत ने 12 मुकदमें निपटाए। सिविल जज मउ शैलेन्द्र सिंह ने द्वारा 6 मुकदमों का निस्तारित करते हुए 4 हजार 2 सौ तीस रुपये का अर्थदण्ड वसूल किया गया। इसमें 24 लोग लाभान्वित हुए। उपजिलाधिकारी कर्वी गुलाब चन्द ने 120 मुकदमों का निर्णय करते हुए 665 लोगों को लाभ पहुंचाया। वहीं तहसीलदार कर्वी अश्वनी कुमार ने 16 वाद, एसडीएम मऊ ने 40 वाद निपटाए। इस मौके पर लोगों को कानूनसे सम्बंधित विभिन्न साहित्य व जानकारियां भी दी गईं। लोक अदालत में 1046 लोगों को लाभ पहुंचा।