लापरवाही बनी जानलेवा

0
255

थाना नाराहट के ग्राम बम्हौरी कलां बुधवार की सुबह घटित एक घटनाक्रम में पिता और पुत्र गम्भीर रूप से आग की प्रचण्ड लपटों में आकर झुलस गये। परिजनों द्वारा आग से झुलसे व्यक्तियों को जिला संयुक्त चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है, जहां अब उनका उपचार जारी है। कभी-कभी थोड़ी सी न-समझी भी एक बढ़ी मुसीबत बन जाती है। पुलिस थाना नाराहट अन्तर्गत ग्राम बम्हौरीकलां में घटित एक घटना को न-समझी कहे अथवा हादसा जिसकी भेंट चढ़े एक पिता-पुत्र के लिये जान पर आफत आ गई, और अब यह लोग जिला संयुक्त चिकित्सालय में भर्ती होकर उपचार कराने हेतु मजबूर है। बताया गया है कि ग्राम निवासी मन्नू पुत्र बंसते का विवाह दो वर्ष पूर्व ही हुआ था। विवाह में उक्त युवक को अन्य दान, दहेज के अलावा एक मोटर साईकिल भी ससुराल पक्ष द्वारा दी गई थी। घटना के सम्बध में बताते है कि बुधवार की सुबह मन्नू लाल की मोटर साईकिल स्टार्ट नहीं हो रही थी, मोटर साईकिल के स्टार्ट न होने की बजह जानने के उद्देश्य से युवक द्वारा माचिस की तीली जलाकर गाड़ी की टंकी में पेट्रौल की जांच की गई। बस यही न-समझी युवक और उसके 45 वषीZय पिता बंसते पुत्र शिवराज की जॉन के लिये मुसीबत साबित हुयी। माचिस की तीली से पकड़ी आग की तेज की लपटो ने सबसे पहले पुत्र और बाद में उसे बचाने आये पिता को अपनी चपेट में ले लिया। उक्त घटना की बजह से पिता और पुत्र गम्भीर रूप से झुलस गये है। परिजनों को जैसे ही घटना की जानकारी प्राप्त हुई तत्काल ही आग से झुलसे व्यक्तियों को जिला संयुक्त चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। 

Reetesh Kumar Sharma
9936504352