लाखों रुपये की हेराफेरी का ग्रामीणों ने लगाया आरोप

0
218

पीडब्ल्यूडी द्वारा बनवाई गई सड़क जगहजगह से उखड़ी                              गलियां कीचड़ से हैं भरपूर, स्वच्छ शौचालय निर्माण हुआ घटिया सामग्री का प्रयोग               ग्राम प्रधान, सचिव सम्बंधित विभागों द्वारा कराए गए कार्यों की जांच कराने की मांग

चित्रकूट – अंबेडकर गांवों के विकास के लिए शासन द्वारा लाखों रुपये तो उपलब्ध कराए जाते हैं। परन्तु इस धन का उपयोग किस तरह होता है इसकी बानगी अंबेडकर गांव बनवारीपुर ग्राम सभा में देखी जा सकती है। यहां के ग्रामीणों का अरोप है कि उनके गांव के प्रधान सचिव ने मिल गांव का विकास कराने के बहाने लाखों रुपये सरकारी धन की हेराफेरी की है। इसके अलावा उनके गांव में सरकारी विभागों द्वारा कराए गए निर्माण कार्यों में भी जमकर घोटाला किया गया।

बनवारीपुर गांव निवासी राम आसरे, प्रहलाद, दिनेश, जागेश्वर, रणजीत सिंह, दयालाल, चुनबाद आदि ग्रामीणों ने बताया कि उनका गांव अंबेडकर गांव के अन्तर्गत आता है। जिसमें विकास के लिए ग्राम प्रधान को लाखों रुपये शासन की ओर से दिए गए थे। लेकिन ग्राम प्रधान ने सचिव की मिलीभगत से सरकारी धन का जमकर दुर्पयोग किया है। इतना ही नहीं दोनों ने बंटरबांट करते हुए खुलेआम लूट मचाई है। इन ग्रामीणों का कहना है कि उनके गांव में स्वच्छ शौचालय योजनान्तर्गत बनवाए गए शौचालयों का निर्माण घटिया सामग्री से हुआ है जिसके चलते गांव के लोग इसका उपयोग नहीं कर पाते।

banvaripur-ckt2इसके अलावा गांव में वृक्षारोपण के नाम पर भी खुलेआम लूट मचाई गई है। ग्रामीणों ने बताया कि गांव के तालाब के किनारे गए पौधारोपण के बाद तो इनकी ठीक तरह से देखभाल की गई और ही इनकी सुरक्षा के विशेष इन्तजाम किए गए। जबकि इस कार्य में भी लाखों रुपये का खर्च बताया गया है। इसी तरह तालाब किनारे लोगों को नहाने के लिए बनाया गए घाट को भी ऐसे बनवाया गया है कि इसकी सीढ़ियां जगहजगह से टूट गई है। इसी गांव की सड़कें भी कीचड़ से भरी हैं जिसके कारण लोगो का आना जाना दूभर हो गया है। लेकिन सड़क निर्माण दिखा कर भी सम्बंधित लोगों ने खूब पैसा कमाया है। वहीं दूसरी ओर इसी गांव के मजरे देशराज का पुरवा में प्रान्तीय लोक निर्माण विभाग की जिला इकाई द्वारा 216 मी. लंबी तीन गलियां बनवाई गई है। जिसमें 5.45 लाख रुपये की लागत विभाग द्वारा लगवाए गए बोर्ड में दर्शाई गई है। इन गलियों की गुणवत्ता इतनी अच्छी है कि बनने के साथ ही जगहजगह से उखड़ गई है।banvaripur-ckt3

]इसके अलावा ग्रामीणों का कहना है कि इन गलियों को बनवाने में उपयोग किए जाने वाली निर्माण सामग्री भी घटिया किस्म की लगाई जा रही है। ग्रामीणों ने प्रदेश सरकार की मुखिया मायावती से अंबेडकर गांव बनवारी पुर में कराए गए विकास कार्यों की जांच कराने की मांग की है। जबकि ग्राम प्रधान गुलाब ग्रामीणों द्वारा लगाए गए आरोपों को फर्जी बताते हुए कहते हैं कि उनके द्वारा गांव के विकास के लिए काफी काम कराया गया है।

श्री गोपाल
9839075109
bundelkhandlive.com