ललितपुर में 1980 मेगावाट बिजली उत्पादन के लिए बजाज हिन्दुस्तान लिमिटेड के साथ अनुबन्ध पत्र हस्ताक्षरित

0
87

बजाज समूह की 5 चीनी मिलों में 450 मेगावाट विद्युत उत्पादन के लिए भी अनुबन्ध पत्र हस्ताक्षरित

उत्तर प्रदेश में बिजली उत्पादन को बढ़ाने की दिशा में आज ऊर्जा मन्त्री श्री रामवीर उपाध्याय की उपस्थिति में बुन्देलखण्ड के ललितपुर में 1980 मेगावाट क्षमता के तापीय विद्युत संयन्त्र लगाने के लिए अनुबन्ध पत्र (एम0ओ0यू0) पर हस्ताक्षर किये गये। अनुबन्ध पत्र पर यू0 पी0 पावर कारपोरेशन के अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक श्री नवनीत सहगल तथा बजाज हिन्दुस्तान लिमिटेड की ओर से संयुक्त प्रबन्ध निदेशक श्री कुशाग्र बजाज ने हस्ताक्षर किये। इस बिजली घर से प्रदेश को 90 प्रतिशत बिजली मिलेगी। इसके अलावा बजाज हिन्दुस्तान की पांच चीनी मिलों में 90 मेगावाट क्षमता की पांच इकाइयों की स्थापना के लिए भी अनुबन्ध पत्र हस्ताक्षरित किये गये। इससे प्रदेश को 450 मेगावाट बिजली मिलेगी।

अनुबन्ध पर हस्ताक्षर के पश्चात् प्रेस प्रतिनिधियों से बातचीत करते हुए अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक श्री नवनीत सहगल ने बताया कि प्रदेश सरकार ने बारहवीं योजना के अन्त तक 25000 मेगावाट विद्युत उत्पादन का लक्ष्य रखा है तथा आज का अनुबन्ध पत्र उसी की कड़ी है। इस संयन्त्र से वर्ष 2015 तक उत्पादन शुरू होगा। उन्होंने बताया कि बजाज समूह की पांच चीनी मिलों में लगने वाले विद्युत संयन्त्र से माह अक्टूबर-नवम्बर, 2011 तक प्रदेश के 450 मेगावाट बिजली मिलने लगेगी। इसके अलावा राज्य सरकार की नई ऊर्जा नीति के तहत समझौता ज्ञापन के माध्यम से फतेहपुर में 1320 मेगावाट तथा अनपरा-`सी´ विस्तार में 660 मेगावाट क्षमता के तापीय बिजलीघर लगाने के लिए स्वीकृति प्रदान कर दी है। इन परियोजनाओं से वर्ष 2015 तक बिजली का उत्पादन शुरू होना प्रस्तावित है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने मार्च, 2012 तक 6217 मेगावाट विद्युत क्षमता वृद्धि की व्यवस्था की है। इसमें राज्य सेक्टर, केन्द्रीय सेक्टर तथा निजी क्षेत्र से प्राप्त होने वाली बिजली शामिल है। इसमें से 2010-11 में 2282 मेगावाट तथा 2011-12 में 3989 मेगावाट बिजली प्रदेश को मिलने लगेगी।

बारहवीं योजना में 25000 मेगावाट अतिरिक्त क्षमता वृद्धि के लिए तैयार की गई कार्य योजना के सम्बन्ध में श्री सहगल ने बताया कि बारा में 1980 मेगावाट, करछना में 1320 मेगावाट, जवाहरपुर में 1320 मेगावाट, दोपहा में 1980 मेगावाट, यमुना एक्सप्रेस वे में 2000 मेगावाट, अनपरा `ई´ में 1320 मेगावाट, ओबरा `सी´ में 1320 मेगावाट, हरदुआगंज विस्तार में 660 मेगावाट, मेजा में 1320 मेगावाट, रोजा द्वितीय चरण में 600 मेगावाट, फतेहपुर में 1320 मेगावाट, अनपरा `सी´ विस्तार 660 मेगावाट, निवेली लिगनाइट से 2000 मेगावाट, सण्डीला में 1320 मेगावाट, चोला में 1320 मेगावाट, ललितपुर में 1980 मेगावाट तथा पनकी विस्तार में 250 मेगावाट क्षमता के बिजली संयन्त्र लगाने की योजना बनायी गई है। इसके अलावा केस-1 बिडिंग के माध्यम से प्रदेश को 5000 मेगावाट बिजली प्राप्त होगी।

अनुबन्ध पत्र पर हस्ताक्षर के समय मुख्य सचिव श्री अतुल कुमार गुप्ता, औद्योगिक विकास आयुक्त श्री अनूप मिश्र, पावर कारपोरेशन के अपर प्रबन्ध निदेशक श्री नरेन्द्र भूषण तथा निदेशक वित्त श्री एस0 के0 अग्रवाल के अलावा बजाज हिन्दुस्तान लिमिटेड के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

NO COMMENTS