रामायण कालिन पौराणिक स्थलो का होगा विकास भारतीय पत्रकार दल मिला श्रीलंका मे भारत के उच्चायुक्त से

0
228

विकस शर्मा
कोलंबो। भारतीय श्रमजीवी पत्रकार संघ(आईएफडब्ल्यूजे) का पत्रकार दल को मंगलवार को भारत के उच्चायुक्त ने अपने यहा चाय पर आमंत्रित किया। पत्रकार दल की अगुवाई कर रहे एच0बी0मदन गौडा के नेतृत्व मे सभी ने सुबह श्रीलंका मे भारत के उच्चायुक्त वाई0के0सिन्हा(भा.वि.से.) से भेंट की। जहां श्री सिन्हा ने सभी पत्रकारो से श्रीलंका के उनके अनुभवों को साझा करने के बाद उन्होने भारत-श्रीलंका संबंधो के बारे मे बताते हुए बताया कि श्रीलंका के साथ भारत की विकास भागीदारी राजनीतिक समझ, ऐतिहासिक अतीत, भौगोलिक वास्तविकताओं और सामाजिक-सांस्कृतिक सहानुभूति की नींव पर बनाया गया है। भारत श्रीलंका के लोगों के लिए 50हजार मकान बना रहा है, साथ ही उन्हे व्यावसायीक प्रशिक्षण प्रदान कराने के लिए वीटीसी की व्यवस्था की है। पत्रकारों रामायण कालीन पौराणिक स्थलो की विकास के सवाल पर श्री सिन्हा ने बताया कि मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह चैहान सरकार सीता माता मंदिर के विकास की योजना है। भारत सरकार एवं श्रीलंका की सरकार तीर्थ यात्रियों के लिए विशेष प्रबंध करेगे। आईएफडब्ल्यूजे के राष्ट्रीय अध्यक्ष के0विक्रम राव को लोकतंत्र प्रहरी सम्मान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दुवरा प्रदान किए जाने पर बधाई दी। दल मे डा0सुधीर सक्सेना, सी0के0शर्मा, के0विश्वदेव राव, डा0उपेंद्र पाढी, इंद्रमणि, विकस शर्मा,सौरभ पटनायक, हरिओम पाण्डेय, शंकर दत्त शर्मा, लखपत सिंह राणा, पंकज गुप्ता, अनुरूप पाण्डेंय, नवीन आदि लोग शामिल रहे। उच्चायोग की फर्स्ट सेक्रेटरी ईशा श्रीवास्तव(भा.वि.से.) भी इस दौरान मौजूद रही।