राजापुर के अलग-अलग क्षेत्राों में आग ने बरपाया कहर

0
115

7ckt61राजापुर थाना क्षेत्रा के अलग-अलग स्थानों में आग लगने से छ: घरों सहित एक खेत व एक खलिहान पूरी तरह जल गए। वहीं एक घर में बंधी तीन भैंसे भी आग की चपेट में आ गईं। जिनकी स्थिति गम्भीर बताई गई है। बुधवार को हुए इस भीषण अग्निकाण्ड में पीड़ितों ने लगभग चार लाख रुपये होने का नुकसान बताया है। उधर एक स्थान में एसडीएम मऊ ने मौके पर पहुंच आर्थिक मदद दिलाए जाने का आश्वासन दिया है।

7ckt7मिली जानकारी के अनुसार राजापुर थाना क्षेत्रा केछीबों गांव में बुधवार की दोपहर अचानक कूड़े से उठी चिंगारी ने हवाओं का सहारा मिलने के साथ ही विकराल रूप धारण कर गांव के पश्चिमी छोर में बने मुन्नू के घर को सबसे पहले अपनी चपेट में लिया। इसके बाद कुबेर, रामविशाल, रामबालक, शिवनन्दन के कच्चे घरों के खपरैल को भी अपनी आगोश में ले लिया। इस दौरान हवाओं के चलते तेज लपटों के साथ जल रही आग में छहों घरों को तो बुरी तरह जलते देख ग्रामीण आग को फैलने से रोकने के साथ-साथ आग बुझाने का प्रयास करने लगे। लेकिन इस बीच रामविशाल के घर में बंधी दो दुधारू भैंसों व एक गाभिन पड़िया की ओर किसी का ध्यान नहीं गया। जिसके चलते पिछवाड़े के हिस्से में बंधे तीनों जानवर आग की चपेट में आकर बुरी तरह झुलस गए। इधर घटना की खबर पाते ही उपजिलाधिकारी मऊ मोतीलाल अपने अधीनस्थों के साथ मौके पर पहुंच गए थे और वहां उन्होंने अग्निकाण्ड के पीड़ितों को सान्त्वना देते हुए 25-25 सौ रुपये क्षतिपूर्ति व दो-दो हजार रुपये अहेतुक धनराशि देने की घोषणा की।  इस दौरान गांव के सारंगधर मिश्रा, राजकुमार, ओमप्रकाश व प्रधान बिन्दा आदि ने पीड़ितों को एक-एक लाख आर्थिक सहायता दिए जाने की मांग की। वहीं दूसरी ओर अमवां गांव में जयनारायण चौबे के खलिहान में उस समय आग लग गई जब वह अपने डीजल इंजन में थे्रेसर लगाकर गेहूं की फसल कतर रहा था।  लोगों के काफी प्रयास के बाद लगभग 5 बीघे की फसल जलने की बात पीड़ित ने बताई है। उधर आग की तीसरी घटना इसी थाना क्षेत्रा के भदेदू गांव में हुई। जहां छेदी लाल के खेत में खड़ी गेहूं की फसल में अचानक आग लग गई। जिसके कारण सूखी फसल पूरी तरह जल गई। पीड़ित ने बताया कि उसने गांव में रहने वाले गिरधारी से बटाई पर खेत ले रखा था।

NO COMMENTS