‘मुझको मिटा के चैन तो तुम भी न पाओगे…

0
308

sp-mla बुंदेलखंड से मंत्री बनाये जाने कि प्रबल संभावनाओं के बीच प्रदेश मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किए जाने के बाद अब गरौठा से सपा के विधायक दीपनारायण सिंह यादव ने जब रात को श्रमजीवी प्रेस क्लब झाँसी के www.pressclubofjhansi.com के वाट्सएप्प ग्रुप में मैसेज किया वो सोशल मीडिया में चर्चाओं में हैं।

उनका आक्रोश भी कई स्थानों पर सामने आ रहा है। इसी दौरान विधायक दीपक के अपने मोबाइल नंबर 7408064317 से सोशल मीडिया पर एक मेसेज जारी किया गया, जिसमें उन्होंने शायराना अंदाजा में तंज कसा है।

मेसेज में लिखा है ‘मुझको मिटा के चैन तो तुम भी न पाओगे, गर मैं नहीं रहा तो सितम किस पर ढाओगे, आगाह कर रहा हूं अंजाम से तुम्हें, छेड़ा करेंगे लोग मेरे नाम से तुम्हें, दुनिया हंसी उड़ाएगी और तुम मुंह छुपाओगे’।

इस मेसेज के वायरल होने के बाद चर्चाओं ने जोर पकड़ लिया है। लोग इस मेसेज को अपने-अपने हिसाब से जोड़कर देख रहे हैं। ज्यादातर लोग इसे समाजवादी पार्टी की खेमेबाजी से जोड़ रहे हैं। सपा के सूत्रों की माने तो मेसेज में तंज सपा के ही एक बड़े नेता पर कसा गया है, जिसके बारे में माना जाता है कि वह दीपक को आगे बढ़ने से रोकने के लिए रोड़ा अटका रहे हैं।

इस मेसेज में विधायक ने गहरा तंज कसा है, जिससे सपा की अंदरूनी गुटबाजी भी जगजाहिर हो रही है। एक बड़े नेता का नाम नहीं लिखे बिना किए गए तंज से यह अनुमान लगाया जा रहा है कि दीपक को आगे बढ़ने से रोकने के लिए यह नेताजी ही रोड़ा अटका रहे हैं।

वहीं इस मामले पर विधायक का कहना है कि यह मेसेज उन्होंने पोस्ट नहीं किया है, बल्कि उनके पीआरओ यादवेंद्र ने डाला है। यह मोबाइल भी उसी के पास रहता है। वह मेेसेज से इत्तेफाक नहीं रखते। यह सब सियासत की बातें हैं।
प्रदेश मंत्रिमंडल में फेरबदल की प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही गरौठा विधायक दीपक के मंत्रिमंडल में शामिल होने की चर्चाओं ने जोर पकड़ लिया था। यहां तक कि उनके समर्थकों के साथ ही इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में उनके मंत्रालय तक तय करके जोरदार चर्चा की जा रही थी, लेकिन मंत्रिमंडल के विस्तार होने पर ऐसा न होने पर बुंदेलखंड में इस कद्दावर नेता के समर्थकों में भारी मायूसी छा गई।

NO COMMENTS