महाविद्यालय में कई विषयों में प्राध्यापक नही

0
214

हमीरपुर- राजकीय महिला महाविद्यालय हमीरपुर में प्राध्यापकों के नवीन पदों का सृजन कर उनकी तैनाती तथा परास्नातक विषयों की मान्यता से संबंधित ज्ञापन नगर विकास मंत्री को दिया गया।

हमीरपुर विकास मंच के अध्यक्ष प्रकाश चंद्र ओमर, महामंत्री राजेंद्र वीर सिंह चौहान, नेहरू युवा समिति के अध्यक्ष तौसीफ खान ने दिये ज्ञापन में कहा कि राजकीय महिला महाविद्यालय की स्थापना 15 अगस्त 1993 को हुई थी। कला संकाय में हिंदी, अंग्रेजी, संस्कृत, राजनीति शास्त्र, मनोविज्ञान, गृहविज्ञान, अर्थशास्त्र की कक्षायें शुरू हुई। 3.08 एकड़ की जमीन हस्तांरित कर कला संकाय एवं प्रशासनिक भवन का शिलान्यास उच्च शिक्षा मंत्री ओमप्रकाश सिंह ने 6 दिसंबर 2000 को किया था। महाविद्यालय में निजी भवन में प्रयोग शाला एवं फर्नीचर की व्यवस्थायें हैं। हिंदी, अंग्रेजी, गृहविज्ञान के प्राध्यापक नहीं हैं, जिससे दिक्कत जा रही है। राजकीय महिला महाविद्यालय मौदहा और हमीरपुर में परास्नातक की कक्षायें न होने से परास्नातक की शिक्षा ग्रहण करने में दिक्कत जाती है। छात्राओं को गैरजनपद भेजना पड़ता है या फिर बीच में ही अपनी शिक्षा बंद करनी पड़ती है। इसलिए प्राध्यापकों के नवीन पदों का सृजन, रिक्त पदों पर तैनाती और परास्नातक विषयों की मान्यता देकर कक्षायें शुरू कराने की जरूरत है।

NO COMMENTS