महामाया आवास निर्माण में गड़बड़ी अधिकारियों का जून का वेतन रुका

0
204

चित्रकूट- महामाया आवास निर्माण में गड़बड़ी पर डीएम हृदेश कुमार ने सभी विकास खंडों के बीडीओ व सचिवों का वेतन रोक दिया है। पिछले दो वित्तीय वर्षो में 5048 आवासों के निर्माण लिये करीब सवा 15 करोड़ रुपया अवमुक्त किया जा चुका है लेकिन ज्यादातर आवास आधे अधूरे  है।

जिला विकास अधिकारी शिवराज यादव के अनुसार महामाया आवास निर्माण के लिये पिछले दो वर्षो में आवास आवंटन का लक्ष्य पूरा हो चुका है व पात्र लाभार्थियों को धनराशि भी दी जा चुकी है। वित्तीय वर्ष 2007-08 में 3907 लोगों को 10 करोड़ 74 लाख 42 हजार पांच सौ रुपये व वर्ष 08-09 में 1141 लोगों को 4 करोड़ 39 हजार पांच सौ रुपये आवास निर्माण के लिये दिये गये है। कुल आवंटित 5048 आवासों के ब्लाकवार वितरण में चित्रकूट को 655, पहाड़ी 567, मानिकपुर 1213, मऊ 1384 व रामनगर को 1229 आवास दिये गये है। उन्होंने बताया कि पचास फीसदी आवासों का निर्माण अभी भी अधूरा है। कुछ लाभार्थियों ने तो आवंटित धनराशि का उपयोग दूसरे कामों में कर लिया। उन्होंने बताया कि आवासों का निर्माण पूरा न होने पर डीएम ने नाराजगी जताते हुए सभी ब्लाकों के बीडीओ, ग्राम विकास अधिकारियों व ग्राम पंचायत अधिकारियों का जून का वेतन रोक दिया है।