मकर संक्रान्ति पर पवित्र सरोवरों में डुबकी लगाई

0
235

ललितपुर- मकर संक्रान्ति पर्व जिले में अगाध श्रद्धा के साथ मनाया गया। संक्रान्ति के मौके पर तीर्थ क्षेत्र श्री सीतापाठ मंदिर, पाली के नील कण्ठेश्वर मंदिर, अमझरा घाटी व रणछोर मंदिर में परम्परागत मेले लगे। लाखों श्रद्धालुओं ने स्नान कर भगवान भास्कर की विशेष पूजा अर्चना की। परम्परागत मेलों में भारी जनसैलाव उमड़ा रहा। सुरक्षा की दृष्टि से आयोजन में भारी पुलिस बल की तैनाती की गई थी। विभिन्न संगठनों ने भी मकर संक्रांति पर्व को समरसता महोत्सव के रूप में मनाया तथा सामाजिक समरसता बढ़ाने के लिए खिचड़ी वितरित की गई।

मकर संक्रान्ति पर आज भगवान भास्कर का उदय 1 बजे के पश्चात ही हुआ। इस वजह से जनजीवन अस्त व्यस्त बना रहा। हालाकि पवित्र स्नान की समयावधि ब्रह्म मुहूर्त से लेकर सायं तक थी। इस कारण श्रद्धालुओं ने अपनी सुविधा के अनुसार पवित्र सरोवरों, नदियों में डुबकी लगाकर परम्परा को निभाया। उल्लेखनीय है कि सनातन धर्मी मकर संक्रान्ति पर्व को अगाध श्रद्धा व उत्साह के साथ मनाते है। आज से भगवान सूर्य की गति दक्षिणायण से उत्तरायण हो जाती है और प्रकृति के इस परिवर्तन को लोक कल्याण के अनुरूप माना जाता है। इसीलिए सनातन धर्मी पवित्र स्नान एवं भगवान भास्कर की विशेष पूजा अर्चना करते है। आंचलिक परम्पराओं में इस पर्व के दिन तिल व खिचड़ी का दान महत्वपूर्ण माना गया है। इस अधिमान्यता के अनुसार लोगों ने विभिन्न देवालयों में जाकर खिचड़ी एवं तिल का दान किया तथा सुख शांति की मनौतियां मांगी। इस पर्व के अवसर पर सनातनधर्मियों ने अपने घरों में धार्मिक अनुष्ठान किए।