मऊरानीपुर में स्वास्थय सेवाओं में सन्नाटा

0
232

प्रदेश सरकार भले ही स्वास्थय सेवाओं के लिए करोड़ों रूपये खर्च कर रही है लेकिन उनके कारिंदे ही उनकी योजनाओं को पलीता लगा रहे है इस का एक नमूना झाँसी जिले के रानीपुर कसबे के मिनी पीएचसी में देखने को मिल जाएगा जहाँ पीएचसी में एक एमबीबीएस चिकित्सक ,एक फार्मासिस्ट ,एक सुपरवाइज़र ,एक एएनएम और एक चपरासी तैनात हैजिन पर मरीजों को उचित स्वास्थय सेवाएं उपलब्ध कराना है लेकिन इस स्वास्थय केंद्र पर स्टाफ नहीं रहता यहाँ पर तैनात चिकित्सक हफ्ते में केवल एक बार ही आते है और पुरे हफ्ते की उपस्थिति लगाकर चले जाते है यही हाल बाकि स्टाफ का भी है यह स्वास्थय केंद्र केवल एक चपरासी के मौजूद रहता है लेकिन इसका खामयाजा केवल गरीब मरीजों को भुगतान पड़ रहा है आज मरीजों ने पीएचसी में अपने स्वास्थय की जांच कराने आये लेकिन डॉक्टर के नहीं मिलने पर मरीजों ने जमकर हंगामा किया