बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण जनांदोलन ने जोर पकड़ा

0
280

झांसी। बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण को लेकर चल रहे प्रदर्शनों के बीच मनाए गए नव वर्ष कार्यक्रमों में राज्य निर्माण समर्थकों ने जनांदोलन को तेज करने पर जोर दिया है।

बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण को लेकर वर्षो से संघर्ष कर रहे संगठनों ने अब जन जागरण तेज कर दिया है। नए वर्ष के पहले दिन जनजागरण अभियान पूरी तेजी पर रहा। बुन्देलखण्ड मुक्ति मोर्चा (तिवारी गुट) के आंदोलनकारियों ने मशाल जुलूस से नए वर्ष का स्वागत किया। झलकारी बाई प्रतिमा स्थित अनशन स्थल से आंदोलनकारियों ने इलाइट चौराहे तक जनजागरण के लिए मशाल जुलूस निकाला। कार्यकर्ता ‘2010 का पैगाम, बुन्देलखण्ड राज्य के नाम’ के नारे लगाते हुए नूतन वर्ष का स्वागत कर रहे है। केन्द्रीय कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. बाबूलाल तिवारी के नेतृत्व में रवीन्द्र कुरेले, संजय शर्मा, अनिल पाठक, हेमेन्द्र शाक्या, विवेक तिवारी, ठाकुरदास दिवगइयां, श्रीराम पटैरिया, प्रभूदयाल लखेरा, अखिलेश त्रिपाठी आदि उपस्थित रहे।

-अनशन स्थल पर आज राज्य निर्माण आंदोलन में आधी आबादी ने जोरदार भागीदारी की। बुन्देलखण्ड महिला मोर्चा की कार्यकर्ता व पदाधिकारी आज अनशन पर बैठीं। अनशन पर बैठने वालों में सरला सैनी, इन्दु शर्मा, प्रभा देवी रायकवार, इन्द्रा सिंह, साधना पटेल शामिल है। अनशन में विभिन्न महाविद्यालयों की छात्राएँ भी उपस्थित रहीं। -बुन्देलखण्ड संयुक्त मोर्चा के अध्यक्ष संतोष सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में जन जागृति व एकजुटता के साथ संघर्ष करने का संकल्प लिया। बैठक में व्यापारियों व किसानों को जोड़ने के लिए सम्मेलन करने का निर्णय लिया गया। -बार असोसियेशन ऑफ उत्तर प्रदेश के प्रांतीय सचिव राजीव नायक ने बताया कि बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण के समर्थन में जिलों व तहसीलों में अधिवक्ता न्यायिक कार्यो का बहिष्कार करेगे और प्रस्ताव पारित कर राज्य निर्माण की मांग करेगे। आंदोलन को सफल बनाने के लिए अधिवक्ताओं की कमेटी बनाई गयी है।

bundelkhandlive.com
E-mail :editor@bundelkhandlive.com
Ph-09415060119