बुन्देलखण्ड राज्य के पुनर्गठन हेतु विधानसभा में संकल्प प्रस्तुत किया था जो आज तक लम्बित है

0
236

उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी के मीडिया चेयरमैन एवं बांदा के सदर विधायक विवेक कुमार सिंह ने जारी एक बयान में कहा कि मुख्यमंत्री सुश्री मायावती ने आज उ0प्र0 को 4 भागों में बांटों का जो एलान किया है। कांग्रेस पार्टी के तीन विधायक विवेक कुमार सिंह, विनोद कुमार चतुर्वेदी एवं तत्कालीन विधायक प्रदीप जैन आदित्य ने वर्ष 2007 में जब 15वीं विधानसभा का गठन हुआ था, तभी प्रथक बुन्देलखण्ड राज्य के पुनर्गठन हेतु विधानसभा में संकल्प प्रस्तुत किया था जो आज तक लम्बित है।
श्री सिंह ने कहा कि श्री प्रदीप जैन आदित्य के सांसद निर्वाचित हो जाने के बाद श्री विनोद चतुर्वेदी एवं विवेक कुमार सिंह के नाम से आज तक विधानसभा में संकल्प लंबित है और हर विधानसभा के सत्र में वह आता है किन्तु आज तक सुश्री मायावती ने विधानसभा में चर्चा नहीं कराया है और पूरे साढ़े चार वर्षों में यह भाषणों में राग अलापा करती हैं और प्रधानमंत्री जी को पत्र लिखती रहती हैं और इस मामले को हवा देती रहती हैं। किन्तु उन्होने कभी भी संवैधानिक व्यवस्था का सम्मान नहीं किया। यही काम जो 21नवम्बर से शुरू हेाने वाले विधानसभा सत्र के दौरान करने जा रही हैं, यदि पहले ही इस पर चर्चा या मतदान करा लिया गया होता तो अब तक बुंदेलखण्ड राज्य बन गया होता।
सुश्री मायावती जी अब यह जान चुकी हैं कि उ0प्र0 में उन्हें करारा हार का सामना आने वाले चुनाव में करना पड़ेगा तो जनता को जनता को गुमराह करने के लिए झूठ का सहारा ले रही हैं। उन्होने कहा कि सुश्री मायावती जी को जवाब देना चाहिए कि उन्होने वर्ष 2007 में प्रस्तुत किये गये संकल्प पर चर्चा या मतदान अभी तक क्यों नहीं कराया।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

NO COMMENTS