बुन्देलखण्ड क्षेत्र के विकास के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध: मुख्यमंत्री

0
114
6-लेन एक्सप्रेस-वे के माध्यम से बुन्देलखण्ड क्षेत्र को दिल्ली से जोड़ा जाएगा
जल संरक्षण के कार्यांे को अभियान के रूप में चलाया जाए
बीपीएल लाभार्थियों को शिविर लगाकर निःशुल्क विद्युत संयोजन दिया जाए
निर्माणाधीन पेयजल परियोजनाओं को प्रत्येक दशा में माह अप्रैल 2017 में पूर्ण करने के निर्देश
विगत तीन वर्षों में झांसी एवं चित्रकूटधाम मण्डल में खोदे गए तालाबों का सत्यापन कराया जाए
लोक कल्याण का अर्थ-परिवार, जाति का कल्याण नहीं, बल्कि बिना भेदभाव के सर्वसमाज का कल्याण है: मुख्यमंत्री
गरीब का खाद्यान्न बाजार में बिकता मिला तो संज्ञेय अपराध मानते हुए बर्खास्तगी होगी
राज्य सरकार भ्रष्टाचार, अराजकता, समाज विरोधी एवं राष्ट्र विरोधी तत्वों से सख्ती से निपटेगी
किसानों के गेहूं मूल्य का भुगतान आर0टी0जी0एस0 के माध्यम से अतिशीघ्र कर दिया जाए
चिकित्सकों को ओ0पी0डी0 में बैठने तथा जेनेरिक दवाएं लिखने के निर्देश
प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर तैनात चिकित्सकांे की फोटो और मोबाइल नम्बर स्वास्थ्य केन्द्र पर चस्पा किया जाए
अध्यापकों की तैनाती मानक के अनुसार की जाए
सार्वजनिक भूमि एवं सड़क को अतिक्रमणमुक्त कराया जाए, पुनः अतिक्रमण होने पर सम्बन्धित थानाध्यक्ष जिम्मेदार होंगे
मुख्यमंत्री का झांसी भ्रमण
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि लोक कल्याण का अर्थ-परिवार, जाति का कल्याण नहीं, बल्कि बिना भेदभाव के सर्वसमाज का कल्याण है। यही वास्तविक लोकतंत्र है। ऐसे लोकतंत्र की स्थापना के लिए राज्य सरकार कृतसंकल्प है। प्रदेश सरकार ऐसी जनकल्याणकारी योजनाएं संचालित करेगी कि कोई गरीब भूख से अथवा इलाज के अभाव में दम नहीं तोड़ेगा। पैसे के अभाव में किसी कन्या की शादी नहीं रुकेगी न ही कोई बच्चा शिक्षा से वंचित रहेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार भ्रष्टाचार, अराजकता, समाज विरोधी एवं राष्ट्र विरोधी तत्वों से सख्ती से निपटेगी।
मुख्यमंत्री आज जनपद झांसी भ्रमण के दौरान पैरामेडिकल काॅलेज में जनप्रतिनिधियों एवं पार्टी पदाधिकारियों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड के विकास के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। बुन्देलखण्ड क्षेत्र के तीव्र विकास के लिए बुन्देलखण्ड को एक 6-लेन एक्सप्रेस-वे के माध्यम से दिल्ली से जोड़ा जाएगा। इससे बुन्देलखण्ड में उद्योगों की स्थापना की शुरुआत होगी। आने वाले वर्षों में नौजवानों को स्थानीय स्तर पर रोजगार की उपलब्धता से पलायन रुकेगा।
इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने झांसी एवं चित्रकूटधाम मण्डल की कानून व्यवस्था एवं विकास कार्यों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि सम्पूर्ण बुन्देलखण्ड क्षेत्र में किसी भी दशा में पेयजल की समस्या नहीं होनी चाहिए। निर्माणाधीन पेयजल परियोजनाओं को प्रत्येक दशा में माह अप्रैल 2017 में पूरा कर लिया जाए। नये हैण्डपम्प और रीबोर हैण्डपम्प को अतिशीध्र ठीक कराने के निर्देश देते हुए उन्हांेंने कहा कि आंशिक दोष के कारण बंद पाइप पेयजल परियोजनाओं को शीघ्रातिशीघ्र ठीक करा लिया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे ग्रामों को चिन्हित कर लिया जाए, जहां टैंकर द्वारा पानी आपूर्ति की जानी है।
श्री योगी ने कूप गहरीकरण, नये कूप के कार्यों को मनरेगा द्वारा कराए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि अधिक से अधिक कार्य मनरेगा के माध्यम से कराया जाए। जल संरक्षण के कार्यांे को अभियान के रूप में चलाया जाए। ज्यादा से ज्यादा तालाब खुदवाए जाएं, इनमें जनसहभागिता सुनिश्चित की जाए। विगत तीन वर्षों में झांसी एवं चित्रकूटधाम मण्डल में खोदे गए तालाबों का टीम गठित कर सत्यापन करा लिया जाए। अपूर्ण कार्यों को प्रत्येक दशा में बरसात के पहले पूर्ण करा लिया जाए। उन्हांेने हैण्डपम्प से निकलने वाले व्यर्थ पानी को भी रोके जाने के निर्देश देते हुए कहा कि ग्रामीण स्तर पर अधिकारी जल संरक्षण हेतु जागरूकता कार्यक्रम कराएं।
मुख्यमंत्री ने विद्युत विभाग की समीक्षा करते हुए विद्युत चोरी रोके जाने हेतु एक अभियान चलाए जाने तथा लाइन हानि रोकने के लिए कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बीपीएल लाभार्थियों को शिविर लगाकर निःशुल्क विद्युत संयोजन दिया जाए। उन्होंने सरचार्ज को माफ करते हुए एकमुश्त बिजली का बिल जमा करने का भी अभियान चलाने के साथ हर घर को बिजली उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए।
श्री योगी ने मण्डियों को व्यवस्थित करने और समस्त सुविधाओं से पूर्ण कराने तथा मण्डियों में कर चोरी को सख्ती से रोके जाने के भी निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि मण्डियों में स्थापित सभी गेहूं क्रय केन्द्रों को क्रियाशील किया जाए तथा किसानों को उनके गेहूं के मूल्य का भुगतान आर0टी0जी0एस0 के माध्यम से अतिशीघ्र कर दिया जाए। खाद्य विभाग की समीक्षा करते हुए उन्हांेंने खाद्यान्न की काला बाजारी को सख्ती रोके जाने तथा इसमें संलिप्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि हर पात्र व्यक्ति को योजना का लाभ मिलना चाहिए। उन्होंने अधिकारियों को सचेत करते हुए कहा कि गरीब का खाद्यान्न बाजार में बिकता मिला तो संज्ञेय अपराध मानते हुए बर्खास्तगी होगी। आने वाले दिनों में हर जिले का दौरा होगा।
मुख्यमंत्री ने बुन्देलखण्ड क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं को और मजबूत किए जाने पर बल देते हुए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रांे पर चिकित्सकों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्हांेंने कहा कि उपलब्ध चिकित्सकों की ड्यूटी रोस्टर के अनुसार लगाई जाए, उनकी उपस्थिति सुनिश्चित की जाए, जिससे अधिक से अधिक गरीबों का इलाज किया जा सके। उन्होंने चिकित्सकों को ओ0पी0डी0 में बैठने तथा जेनेरिक दवाएं लिखने के निर्देश देते हुए कहा कि सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर तैनात चिकित्सकांे की फोटो और मोबाइल नम्बर केन्द्र पर चस्पा किया जाए, ताकि तीमारदारों को चिकित्सक की उपस्थिति की जानकारी हो सके।
श्री योगी ने शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ाने के निर्देश देते हुए कहा कि ऐसे विद्यालयों को चिन्हित किया जाए, जहां बच्चे कम और अध्यापक अधिक हैं। अध्यापकों की तैनाती मानक के अनुसार की जाए। इस वर्ष बच्चो को यूनिफार्म, जूते, मोजे और बैग भी दिए जाएंगे। उन्होंने मिड-डे मील को गुणवत्ता के साथ लागू करने के निर्देश दिए।
मुख्यमंत्री ने झांसी एवं चित्रकूटधाम मण्डलों की कानून व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा करते हुए कहा कि अपराधियों को किसी भी दशा में बख्शा नहीं जाएगा। पेशेवर अपराधियों, तस्करों, भू-माफियाओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। सार्वजनिक भूमि एवं सड़क को अतिक्रमणमुक्त कराया जाए, पुनः अतिक्रमण होने पर सम्बन्धित थानाध्यक्ष जिम्मेदार होंगे। उन्होंने कहा कि शिकायतों पर निष्पक्ष कार्रवाई होनी चाहिए। शासन द्वारा अनुमन्य सुविधाएं जनता तक पहुंचनी चाहिए।
मुख्यमंत्री ने जिला चिकित्सालय का भी निरीक्षण किया। उन्होंने ओ0पी0डी0 आकस्मिक सेवाकक्ष, सीटी स्कैन कक्ष, रेडियोलाॅजिस्ट कक्ष, एकीकृत परामर्श एवं परीक्षण केन्द्र, हृदयरोग केन्द्र, महिला सर्जिकल वार्ड आदि का बारीकी से निरीक्षण किया। मरीजों से मिले, उनका हालचाल पूछा तथा दवाइयों आदि की भी जानकारी ली। श्री योगी ने नवीन गल्ला मण्डी का भी निरीक्षण किया एवं गेहूं क्रय केन्द्र की व्यवस्था देखी। उन्होंने किसानों से बातचीत कर गेहूं क्रय के सम्बन्ध में भी आवश्यक जानकारी ली। टाकोरी ब्लाॅक बड़ागांव में अपने निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने मनरेगा योजना से जल संरक्षण अन्तर्गत तालाब निर्माण कार्य को देखा। वहीं पूर्व माध्यमिक विद्यालय टाकोरी ब्लाॅक बड़ागांव में बच्चों से पढ़ाई, किताब, शिक्षा, मिड-डे मील आदि की भी जानकारी ली।
भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री के साथ सिंचाई मंत्री श्री धर्मपाल सिंह, परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री स्वतंत्रदेव सिंह, ग्राम्य विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री महेन्द्र सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

NO COMMENTS