बुंदेलखण्ड में त्राहि-त्राहि मची हुई है

0
250

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कलराज मिश्र ने कहा कि बुन्देलखण्ड में पेयजल एवं सिंचाई का अभाव है जिससे बुंदेलखण्ड में त्राहि-त्राहि मची हुई है। किसान आत्महत्या के लिये मजबूर है। अंतर्राष्ट्रीय जगत में बुंदेलखण्ड अलग स्थान रखता है। झांसी की रानी, तात्या तोपे हिन्दुस्तान की आजादी एवं कांग्रेसी हुकूमत से छुटकारा बुंदेलखण्ड ने ही दिलाया। आल्हा-ऊदल की कहानी भी बुंदेलखण्ड से ही सम्बन्धित है। केन्द्र एवं बसपा सरकार बुंदेलखण्ड के साथ विश्वासघात कर रही है। केन्द्र सरकार के कोरे आश्वासनों से किसान दुखी हैं।

श्री मिश्र आज चित्रकूट में विशाल जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भगवान राम यहां आये और राक्षसों का विनाश किया और कहा कि यहीं रहूंगा। बुंदेलखण्ड की आर्थिक स्थिति खराब है। छोटी जोत के किसान ज्यादा हैं। खेतिहर मजदूर भी ज्यादा हैं। यहां पर खनिज सम्पदा भी है। यदि बुंदेलखण्ड में किसान को सुविधा प्रदान की जाये तो वह पूरे प्रदेश को खनिज दे सकता है। केन्द्र एवं प्रदेश सरकार ने लगातार किसानों का शोषण किया है। इस शोषण के लिये केन्द्र व प्रदेश दोनो सरकारें जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि बुंदेलखण्ड में पैकेज और हिसाब मांगने की सियासत कर रही कांग्रेस और बसपा के ढोंग से आहत होकर आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। केन्द्र सरकार 7266 करोड़ रूपये भेजने की बात कहती है। मायावती कहती हैं कि केन्द्र सरकार झूठ बोल रही है। लेकिन प्रधानमंत्री कहते हैं कि मैंने राज्य सरकार को रूपये दिये हैं और मैं कहता हूं कि दोनो मिलकर रूपये खा गये हैं। केवल 400 करोड़ रूपये पूरे प्रदेश में राज्य सरकार ने आवंटित किये हैं।

श्री मिश्र ने कहा भाजपा सरकार ही बुंदेलखण्ड का विकास करेगी। भाजपा को सत्ता तक पहुंचाने में बुंदेलखण्ड का बड़ा योगदान रहा है। भाजपा के सत्ता में आने पर यहां विकास हुआ। भाजपा ने बुंदेलखण्ड का विकास प्राथमिकता के आधार पर किया। श्री मिश्र बांदा जनपद के ग्राम पोस्ट भदौसा के आर्थिक तंगी के चलते आत्महत्या कर चुके किसान प्रमोद तिवारी के आवास पर गये और परिजनों से मिले।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com