बुंदेलखंड राज्य का असर देखेगा चुनाव 2012 में :सुधांशु दुवेदी

0
101

बुंदेलखंड राज्य के लिए अब बुंदेलखंडवासी उसी सर्कार को पाषंड करेगे जो बुंदेलखंड बनाएगा यह कहना है बुंदेलखंड के दल्ली निवासी सुधांशु    दुवेदी  का  उत्‍तर प्रदेश के बांदा, चित्रकूट, झांसी, ललितपुर महोबा हमीरपुर   जालौन  और मध्‍य प्रदेश के सागर जिले को एकत्र कर बुंदेलखंड राज्‍य बनाने की मांग सदन में कई बार दोहरायी जा चुकी है। श्री  दुवेदी   ने कहा कि आज बुन्देलखण्ड के किसानो को सीधी और त्वरित सहायता की जरूरत है। सूखा राहत के नाम पर विभिन्न योजनाओ में जमकर बन्दर बाँट होता है , इसलिए पात्र किसानों को समय से और उचित मात्रा में राहत राशिः नही पहुँच पाती है। लिहाजा अब पुनरावृत्ति से बचा जाना चाहिए। दूसरी ओर श्री  दुवेदी ने यह भी कहा कि सूखा राहत मिलने के नियम कानून इतने जटिल होते है कि आम आदमी उन्हें समझ नही पाता है , इसलिए ऐसे में वह जान ही नही पाता है कि उसे कितनी राशि मिलनी चाहिए , फलस्वरूप उसे जो भी मिलता है वह उतने से ही संतुष्टि कर लेता है। अतः राहत देने का फार्मूला आसान हो ।कहा कि बुन्देलखंड में सूखा पीड़ित किसानो द्वारा आत्म हत्याओं का सिलसिला शुरू हो चुका है इसलिए और मौतों का इंतजार न करते हुए सरकार को जल्द ही सहायता की सोचनी चाहिए। श्री  दुवेदी ने कहा कि वैसे तो इस वर्ष पूरे भारत में ही सूखे जैसी स्थिति बनी हुई है किंतु बुन्देलखंड कि स्तिथि इसलिए हटकर है क्योंकि यहाँ सूखा का पहला साल नही बल्कि पिछले पॉँच वर्षों से यही हालत है। इसलिए सरकार को बुन्देलखंड के किसानो के बारे में प्राथमिकता से सोचना होगा। राहत प्रदान करते समय भी बुन्देलखंड के किसानो को देश के अन्य हिस्सों के किसानो से तुलना न करते हुए विशेष अधिभार दिया जाए।

Vikas Sharma
bundelkhandlive.com
E-mail :editor@bundelkhandlive.com
Ph-09415060119

NO COMMENTS