बदनामी के भय से एक व्यक्ति ने मौत को गले लगाया

0
65

पुलिस कोतवाली अन्तर्गत ग्राम बुढ़वार में बदनामी के भय से एक व्यक्ति द्वारा स्वंय को आग के हवाले कर आत्महत्या कर ली गई। मृतक के पुत्र की लिखित शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपियों के विरूद्व मामला पंजीकृत किया है।

 प्राप्त जानकारी अनुसार पुलिस कोतवाली अन्तर्गत ग्राम बुढ़वार में पुतनऊ बंधा के पास मंगलवार की सुबह एक अध जली  लाश पड़ी मिली। ग्राम वासियों ने शव के नजदीक जाकर जब उसकी शिनाख्त की तो मृतक गांव का वीरन बढ़ई निकला। मृतक के पुत्र घनश्याम बढ़ई ने अपने पड़ोसी और उसकी पत्नी पर पिता को आत्महत्या हेतु मजबूर करने का आरोप लगाते हुये कार्यवाही की मांग की है।

मृतक के पुत्र ने बताया है कि उसके पड़ोसी प्रेमी पुत्र लक्षमन कुशवहा ने बीती 3 जुलाई को घर में जेवरातों की चोरी और पत्नी के साथ छेड़छाड़ करने का उसके पिता पर झूठा आरोप मढ़ा था। पड़ोसी की पत्नी श्रीबाई ने पुलिस से शिकायत की थी कि मृतक ने उसके घर में चोरी ही नहीं बल्कि उसका हाथ पकड़कर छेड़छाड़ भी की थी। उक्त घटना के बाद से ही मृतक उदास-उदास सा रहता था। बताया गया है कि सोमवार की सुबह वीरन बढ़ई घर से जानवर लेकर चराने हेतु निकला था, इस दौरान वह कब अपने साथ मिट्टी के तेल की बोतल ले गया इसका परिजनों को पता ही नहीं चला। मृतक के पुत्र का कहना है कि जब उसका पिता रात को घर नहीं आया तो उसकी खोजबीन की गई, परन्तु उसका कही भी पता नहीं चला। मंगलवार की सुबह कुछ लोगों ने पुतनऊ बंधा के पास अध जली अवस्था में मृतक का शव देखा। घनश्याम का आरोप है कि पड़ोसी और उसकी पत्नी द्वारा पुलिस में की गई झूठी शिकायत और बदनामी के भय से ही उसके पिता ने आत्महत्या कर ली। मृतक के पुत्र की शिकायत पर पुलिस ने बुढ़वार निवासी प्रेमी पुत्र लक्षमन, श्रीबाई पत्नी प्रेमी एवं रामसिंह पुत्र भगोले के विरूद्व धारा 306 के तहत मामला पंजीकृत कर विवेचना आरम्भ कर दी है। पुलिस ने मृतक के शव को अपने कब्जे में लेते हुये पंचनामा उपरान्त पोस्टमार्टम हेतु भी भिजवाया है।
 

Reetesh Kumar Sharma

9936504352

NO COMMENTS