प्रार्थना पत्रों के निस्तारण में शिथिलता मिलने पर डीएम ने जताया असंतोष

0
148

ललितपुर – जिले की तीनों तहसीलों में तहसील दिवस पर जनता की समस्याओं को सुना गया। मुख्य कार्यक्रम तहसील महरौनी में जिलाधिकारी रणवीर प्रसाद की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। जिलाधिकारी ने प्रार्थना पत्रों को सम्बन्धित अधिकारियों की सुपुर्दगी में देकर तत्काल निराकरण करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जनता द्वारा प्रस्तुत की गयीं शिकायतों को गम्भीरता से लिया जाये। निस्तारण में शिथिलता पर कार्यवाही होगी। उन्होंने अब तक निस्तारित नहीं होने से वाछित रहे प्रार्थना पत्रों से सम्बन्धित अधिकारियों के प्रति असंतोष जताया। इस दौरान कृषि विविधीकरण परियोजना के तहत पान बरेजा निर्माण व कम्पोस्ट यूनिट स्थापना के लिए किसानों को अनुदान के रूप में चेक वितरित किये गये।

तहसील दिवस आयोजन के दौरान विभिन्न विभागों से सम्बन्धित 225 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए, जिनमें से सर्वाधिक राजस्व के 56, जल निगम के 37, पुलिस के 36, विकास विभाग से सम्बन्धित 26, चकबन्दी व बैंक से सम्बन्धित 13-13, पूर्ति विभाग, सिंचाई के 7-7, स्वास्थ्य के 8, शिक्षा के 6, समाज कल्याण के 9, विद्युत के 5 सहित अन्य विभागों से सम्बन्धित थे। जिलाधिकारी ने फरियादियों से कहा कि उनकी समस्याओं का निस्तारण प्राथमिकता से किया जायेगा। उन्होंने बारी-बारी से समस्याओं को सुना और नोटिड करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों की सुपुर्दगी में प्रार्थना पत्र दिये। जिलाधिकारी ने मौजूद अधिकारियों से कहा कि वह जन समस्याओं को गम्भीरता से लें। छोटी से छोटी समस्या के निस्तारण में ध्यान केन्द्रित किया जाये। आयोजन के लिए जनता में काफी इतजार रहता है। वह दूर दराज के इलाकों से आकर अपनी समस्यायें सुनाते है। जिलाधिकारी ने पूर्व के आयोजन के लम्बित प्रार्थना पत्रों को तलब किया तथा निस्तारण नहीं होने पर नाराजगी जतायी। इस दौरान विकलाग व्यक्तियों के दस प्रमाण पत्र भी बनाये गये।

जिलाधिकारी ने कृषि विविधीकरण योजना के तहत पान बरेजा निर्माण के लिए ग्राम पाली निवासी वृन्दावन पुत्र खुमान, भोलेराम पुत्र हर प्रसाद, मौजी लाल पुत्र बूठा, गोविन्द दास पुत्र दलपत, बालमुकुन्द पुत्र गोरे लाल को 50-50 हजार के चेक प्रदान किये, जबकि पाली के ही चार अन्य शकर पुत्र खूवा, रामपाल पुत्र बरजोरे, राम स्वरूप पुत्र नाथूराम, गिरधारी लाल पुत्र रामस्वरूप को 38-38 हजार के चेक प्रदान किये गये। बर्मी कम्पोस्ट स्थापना के लिए राज्य औद्योनिक मिशन योजना के तहत विकास खण्ड बिरधा अन्तर्गत ग्राम मैरतीकला निवासी रतन पुत्र गनू, विकास खण्ड महरौनी अन्तर्गत ग्राम कुआघोषी के नन्दू पुत्र प्यारे लाल अहिरवार, विकास खण्ड मड़ावरा अन्तर्गत ग्राम गुढ़ा बुजुर्ग निवासी सिंगार पत्‍‌नी मन्नू लाल को बर्मी कम्पोस्ट खाद बनाने पर अनुदान के रूप में 30-30 हजार रुपये का चेक प्रदान किया। जिलाधिकारी ने कहा कि इस पैसे का उपयोग कृषि कार्य संव‌र्द्धन में किया जाये। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक सैयद वसीम अहमद के अलावा अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद थे।

तहसील सदर में आयोजन की कार्यवाही उप जिलाधिकारी पी.के.श्रीवास्तव की अध्यक्षता में शुरू हुई। इस मौके पर 153 प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किये, जिनमें से दो का निस्तारण मौके पर ही कर दिया गया। उप जिलाधिकारी ने कहा कि समस्या व प्रार्थना पत्रों का निस्तारण समयावधि के भीतर प्रत्येक दशा में कर दिया जायेगा। उन्होंने आयोजन में सम्मिलित हुए फरियादियों की समस्यायें बारी-बारी से सुनीं। इस मौके पर पुलिस से सम्बन्धित 26, राजस्व के 30, विकास के 20, समाज कल्याण 22, पूर्ति विभाग के 15, जल निगम 17, स्वास्थ्य विभाग के 5, विद्युत, सिंचाई के 4-4, राजघाट बेतवा रिवर बोर्ड के 3, एलडीएम के 2, शिक्षा, कृषि, पालिका, लोक निर्माण, आवास योजना से सम्बन्धित 1-1 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुआ। इस अवसर पर डिप्टी कलैक्टर विधान जायसवाल, जिला सूचनाधिकारी सुधीर कुमार के अलावा अन्य अधिकारी मौजूद थे।