प्रदेश के 14 जिलों में 4046.20 लाख रूपये लागत की 20 ग्रामीण पेयजल योजनाओं के क्रियान्वयन से 165948 लोगों को शुद्ध पेयजल की सुविधा मिली

0
183

योजनाओं में 38883 लाभार्थी अनुसूचित जाति/जन जाति के

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा निर्धारित की गईं प्राथमिकताओं के अनुरुप ग्रामीण इलाकों की जनता को शुद्ध पेयजल की सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में उ0प्र0 जल निगम द्वारा तेजी से प्रयास किये जा रहे है। प्रदेश के 14 चयनित जनपदों में जल निगम द्वारा 4046.20 लाख रूपये की लागत से स्थापित 20 ग्रामीण पेयजल योजनाओं के लोकार्पण से 165948 लोगों को शुद्ध पेयजल की सुविधा प्राप्त हो रही है। इन लाभार्थियों में अनुसूचित जाति/जनजाति के लाभार्थियों की संख्या 38883 है।

जल निगम के प्रवक्ता से प्राप्त जानकारी के अनुसार गाजियाबाद में अठसेमी, लखीमपुर में तेलियर, हरदोई में मझिगॉव, जौनपुर में बारीगॉव, चित्रकूट में कलिछिया तथा खोहर, बॉदा में हरदौली तथा कुर्रही, बाराबंकी में सोनिकपुर, बिजनौर में ताजपुर, औरेया में रूरूखुर्द, वाराणसी मेें गोसाईपुर तथा उन्दीकोट, फतेहपुर में कोरसम, मुज़फ्फरनगर में चौसाना व खरड़, प्रतापगढ़ में झोकवारा, आगरा में रामनगर, नैनाना व रोहता में संचालित ग्रामीण पेयजल योजनाओं का लोकार्पण माननीया मुख्यमन्त्री जी द्वारा इस वर्ष 15 जनवरी को अपने जन्मदिवस पर आयोजित जन कल्याणकारी दिवस के अवसर पर किया गया था।

प्रवक्ता ने बताया कि ग्रामीण पेयजल योजनाओं के संचालन हेतु 14 जनपदो में 39 नलकूप तथा पिम्पंग प्लान्ट, 38 विद्युत संयोजन तथा 39 पम्प हाउस बनाये गये हैं। योजनाओं में पानी की आपूर्ति के लिए 20 ओवर हेड टैंक तथा 323.48 किमी0 वितरण प्रणाली निर्मित की गई है, जिससे ग्रामीण जनता को अनावृत पेयजल की आपूर्ति की जा सके।

प्रवक्ता के अनुसार आगरा में 10 नलकूप, चित्रकूट व बॉदा में 5-5, वाराणसी में 04, मुजफ्फरनगर में 03, गाजियाबाद, लखीमपुर, हरदोई, जौनपुर, बाराबंकी, बिजनौर, औरेया, फतेहपुर, प्रतापगढ़ में 01-01 नलकूप निर्मित किये गये है। इन ग्रामीण योजनाओं के निर्माण पर आगरा जिले में इन योजनाओं पर 459.16 लाख रूपये, मुजफ्फरनगर की दो परियोजनाओं पर  276.73 लाख रूपये, वाराणसी की दो परियोजनाओं पर 311.59 लाख रूपये, बॉदा जिले पर 286.57 तथा चित्रकूट की दो परियोजनाओं पर 273 लाख रूपये, गाजियाबाद जिले में 1422.70 लाख रूपये, लखीमपुर जिले में 124.56 लाख रूपये, हरदोई जिले में 101.58 लाख रूपये, जौनपुर जिले में 106.32 लाख रूपये, बाराबंकी जिले में 128.69 लाख रूपये, बिजनौर जिले में 186.57 लाख रूपये, औरेया जिले में 166.37 लाख रूपये, फतेहपुर जिले में 102.37 लाख रूपये तथा प्रतापगढ़ जिले में 99.99 लाख रूपये ग्रामीण पेयजल योजनाओं के क्रियान्वयन पर व्यय किये गये हैं।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

NO COMMENTS