पांच साल में 21 करोड़ रुपये खर्च होंगे

0
77

हमीरपुर- एक दर्जन विभागों को समाहित कर जिले में पांच साल की 21 करोड़ की लागत से राष्ट्रीय कृषि विकास योजना को लागू किया गया है।

जानकारी देते हुए उपनिदेशक कृषि उमेश कटियार ने बताया कि न्याय पंचायत स्तर पर तकनीकी विशेषज्ञ की तैनाती रहेगी। ब्लाक स्तर पर किसानों को प्रशिक्षण दिया जायेगा। मृदा परीक्षण प्रयोग शाला को और अधिक विकासित किया जायेगा, ताकि अधिक से अधिक किसान लाभान्वित हो सकें। हर विकास खंड में एग्रोक्लीनिक खोले जायेंगे। उन्होंने बताया कि खेती में बचने वाले अवशेष अंश की जांच पड़ताल की जायेगी, ताकि उसे मजबूत किया जा सके। कामर्शियल डेरी की स्थापना की जायेगी। 28 मिनी डेरी के अलावा मिल्क प्रोसेसिंग यूनिट भी लगाया जाना प्रस्तावित है। उन्होंने बताया कि उद्यान में औषधीय खेती, सब्जियां, प्याज और हल्दी के उत्पादन को बढ़ावा दिया जायेगा। पशु पालन, मत्स्य, डेरी मंडी लघु सिंचाई को बढ़ावा दिया जायेगा। 500 निजी नलकूपों को कनेक्शन दिया जाना भी प्रस्तावित है। यह योजना वर्ष 09 से 013 तक चलेगी।