पहले अधिवक्ता हूं बाद में जज

0
167

बांदा- मैं पहले अधिवक्ता हूं बाद में जज। यह उद्गार नवागंतुक जिला जज छोटेलाल वर्मा ने स्वागत समारोह में व्यक्त किये।  अधिवक्ताओं के लिये मेरे दरवाजे हर समय खुले है।

जिला अधिवक्ता संघ भवन में आयोजित सादे समारोह में जिला जज श्री वर्मा ने कहा कि वह मात्र छह घंटे ही जज है। बाकी के समय में वह अधिवक्ता के रूप में सभी साथियों के लिये मौजूद है। किसी भी अधिवक्ता की परेशानी उनकी परेशानी है। जिनका वह समाधान करायेंगे। उन्होंने कहा कि वह जिलाधिकारी से मिलकर नगर की समस्याओं का समाधान करायेंगे। समारोह में मौजूद विशिष्ट अतिथि एडीजे प्रथम बीडी नकवी ने भी अपने विचार व्यक्त किये। बार एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष रामस्वरूप सिंह ने बार व बेंच के बीच सामंजस्य बनाये रखने का आवाहन किया। समारोह में सभी न्यायिक अधिकारी व अधिवक्तागण मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन पूर्व बार सचिव विजय बहादुर सिंह परिहार ने किया।