देश में हाल में हुए कुछ बड़े आतंकवादी हमले का घटनाक्रम.

0
284
असम, 30 अक्टूबर 2008: असम में 18 आतंकवादी हमलों में कम से कम 77 लोग मारे गए और सौ से ज्यादा लोग घायल हो गए।
INDIA-MUMBAI/मुंबई, 26 नवंबर 2008: मुंबई में सिलसिलेवार विस्फोटों और भीड़भाड़ वाले सीएसटी रेलवे स्टेशन, ओबेराय एवं ताज होटल सहित कई स्थानों पर बेतरतीब गोलीबारी में 170 से ज्यादा लोग मारे गए।

इंफाल, 21 अक्टूबर 2008: मणिपुर पुलिस कमांडो परिसर के नजदीक शक्तिशाली विस्फोट में 17 लोग मारे गए।

मालेगांव (महाराष्ट्र), 29 सितंबर 2008: भीड़भाड़ वाले बाजार में मोटरसाइकिल में रखे विस्फोटकों के विस्फोट होने से पांच लोगों की मौत।

cstfinalमोदासा (गुजरात), 29 सितंबर 2008: एक मस्जिद के नजदीक कम तीव्रता वाले बम विस्फोट में एक की मौत, कई घायल।

नई दिल्ली, 27 सितंबर 2008: महरौली के भीड़भाड़ वाले बाजार में बम फेंकने से तीन लोगों की मौत।
नई दिल्ली, 13 सितंबर 2008: शहर के विभिन्न हिस्सों में छह बम विस्फोटों में 26 लोगों की मौत।
अहमदाबाद, 26 जुलाई 2008: दो घंटे से कम समय के भीतर 20 बम विस्फोटों में 57 लोगों की मौत।
बेंगलूर, 25 जुलाई 2008: कम तीव्रता के बम विस्फोट में एक व्यक्ति की मौत।
जयपुर, 13 मई 2008: सिलसिलेवार बम विस्फोट में 68 लोगों की मौत।
जनवरी 2008: रामपुर में सीआरपीएफ शिविर पर आतंकवादी हमले में आठ की मौत।
अक्टूबर 2007: राजस्थान के अजमेर शरीफ में रमजान के समय दरगाह के अंदर विस्फोट में दो की मौत।
अगस्त 2007: हैदराबाद आतंकवादी हमले में 30 की मौत, 60 घायल।
मई 2007: हैदराबाद के मक्का मस्जिद में विस्फोट में 11 की मौत।
IRAQ EXPLOSIONS19
फरवरी, 2007: भारत से पाकिस्तान जाने वाली ट्रेन में दो बम विस्फोटों में कम से कम 66 यात्री जल मरे जिनमें अधिकतर पाकिस्तानी थे।
सितंबर, 2006: मालेगांव के एक मस्जिद में दोहरे बम विस्फोट में 30 लोगों की मौत और सौ लोग घायल।
जुलाई 2006: मुंबई मुंबई की ट्रेनों में सात बम विस्फोटों में 200 से ज्यादा लोगों की मौत और 700 अन्य घायल।
मार्च 2006: वाराणसी के एक मंदिर और रेलवे स्टेशन पर दोहरे बम विस्फोट में 20 लोगों की मौत।
अक्टूबर 2005: दीवाली से एक दिन पहले नई दिल्ली के व्यस्त बाजारों में तीन बम विस्फोटों में 62 लोगों की मौत और सैकड़ों लोग घायल।