दस्युदल से हुई जबरदस्त मुठभेड़ में एमपी पुलिस ने चार बदमाश मारे

0
202

50 हजार का ईनामी बिछियन नरसंहार का प्रमुख आरोपी दस्यु मामा गोड़ भी मारा गया
सतना एसपी ने कहा कि कई और बदमाश भी घायल हैं
चित्रकूट –  आपरेशन पोस्ट भरतकूप क्षेत्र में बदमाशों की हलचल होने की खबर पर भारी पुलिस बल के साथ अधिकारियों ने काबिंग की। पुलिस की भनक लगते ही बदमाश मध्यप्रदेश सीमा की ओर भाग खड़े हुए। उधर मध्यप्रदेश के सतना जिलातंर्गत कई थानों की फोर्स ने बरौंधा थाना क्षेत्रा में बदमाशों को घेर लिया। कई घंटों तक हुई गोलीबारी में बिछियन नरसंहार के प्रमुख आरोपी सहित चार बदमाश के मारे गए। जिसमें मामा उर्फ सुरेश गोड़ के पास से पुलिस से लूटी गई थ्री नॉट थ्री रायफल भी बरामद हुई है। घटना स्थल में रीवां आईजी, डीआईजी समेत आला पुलिस अधिकारी पहुंच गए हैं। वहीं एसपी सतना ने कई और बदमाशों के घायल होने की जानकारी देते हुए रात में ही सघन सर्चिंग कराए जाने की बात कही है।

मिली जानकारी के अनुसार आपरेशन पोस्ट भरतकूप क्षेत्र में खूंखार दस्यु राजा खान व दस्यु मामा उर्फ सुरेश गोड़ के गैंग के साथ होने की खबर पुलिस को मिली थी। जिस पर सीओ सिटी उदयशंकर की अगुवाई में कोतवाली प्रभारी सीडी गौड़ ने पुलिस बल के साथ गुरुवार की तड़के बन्दरी, सभापुर, नावघाट आदि गावों में  काबिंग शुरू की। चर्चा है कि पुलिस की गतिविधि बढ़ते ही बदमाश जिले की सीमा से सटी मध्यप्रदेश  सीमा की ओर निकल भागा। इधर दस्यु की खोज में संयुक्त काबिंग कर रही सतना जिले के बरौंधा, नयागांव व मझगवां थाना पुलिस को गिरोह के बरौंधा क्षेत्रान्तर्गत महताईन व कल्हौरा जंगल के आस पास होने की सटीक सूचना मिली। पुलिस पार्टी जंगलों में कई कोनों से घेराबन्दी करते हुए महताईन गांव पहुंची जहां ग्रामीणों ने एक दर्जन सशस्त्रा बदमाशों को झिरियाघाट के पास जानकारी दी। इधर मध्यप्रदेश पुलिस ने वहीं रुक अतिरिक्त पुलिसफोर्स बुला जंगल के बीच स्थित खाई नुमा स्थानों से लुकते झिपते झिरियाघाट में घेराबन्दी कर दस्युदल को ललकारा तो बदमाशों की ओर से ताबड़तोड़ फायरिंग होने लगी। बताते हैं कि पुलिस ने दस्युदल की तीन ओर से ही घेरा बन्दी कर पाई थी। जिसका फायदा उठाते हुए लगभग तीन घंटे तक चली जबरदस्त मुठभेड़ के बाद बदमाश जंगलों की ओर निकल भागे। लेकिन पुलिस पार्टी को घटना स्थल में चार लोगों के बदमाशों के शव मिले जिनकी पहचान बिछियन नर संहार के प्रमुख आरोपी 50 हजार के ईनामी मामा उर्फ सुरेश गोड़ जिसके कब्जे से थ्री नॉट थ्री की पुलिस रायफल बरामद की गई है साथ ही रामदयाल, ओम प्रकाश व झांसी निवासी मनोज भी मारे गए हैं। जिनके पास से  12 बोर की इंग्लिश डीबीबीएल बन्दूके बरामद हुई हैं। एमपी पुलिस ने तीनों के ऊपर भी 5-5 हजार रुपये का ईनाम घोषित कर रखा था। उधर घटना की खबर मिलते ही आई जी रीवां गाजीराम मीना, डीआईजी रीवा के पी खरे व एसपी सतना हरी सिंह यादव भी भारी पुलिस के साथ घटना स्थल पहुंच गए। सतना एसपी श्री यादव ने बताया कि मुठभेड़ में कई और बदमाशों के घायल होने की सूचना है। जिनकी तलाश के लिए पुलिस पार्टियां यूपी पुलिस के सहयोग से जंगलों में सर्चिंग कर रही है।

श्री गोपाल

09839075109

NO COMMENTS