दवाओं एवं खाद्य पदार्थो में अपमिश्रण के रोकथाम के लिए प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित की जाये-मुख्यमन्त्री

0
150

विभाग मिलावट के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही करके जनता में भरोसा पैदा करे-मायावती
नकली/अधोमानक औषधियों के निर्माण व बिक्री की रोकथाम हेतु ही नए विभाग का गठन किया गया-मुख्यमन्त्री
खाद्य पदार्थो में मिलावट के विरूद्ध चलाये गये विशे छापामार अभियान के दौरान 56 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया
अभियान के दौरान एक करोड़ रूपये मूल्य से अधिक की अपमिश्रित खाद्य सामग्री जब्त/नष्ट की गई

लखनऊ –  उत्तर प्रदेश की मुख्यमन्त्री सुश्री मायावती ने दवाओं एवं खाद्य पदार्थो में अपमिश्रण की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे अभियान की सराहना करते हुए आगे भी गहन एवं प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जनता के जीवन की रक्षा के लिए राज्य में नकली/अधोमानक औषधियों के निर्माण और बिक्री की रोकथाम के लिए जागरूकता अभियान चलाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि अभियान में जन सहयोग भी प्राप्त किया जाये। उन्होंने आयुक्त, खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग को निर्देशित किया है कि नकली एवं अधोमानक औषधियों के निर्माण एवं बिक्री के लिए जिम्मेदार लोगों के विरूद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को गिरफ्तार कर उन्हें सख्त सजा दिलाई जाए ताकि जनता को नए विभाग के गठन का लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि सरकार ने दवाओं और खाद्य पदार्थो में मिलावट को गम्भीरता से लेते हुए इसके लिए कठोर दण्ड की व्यवस्था की है।

मुख्यमन्त्री आज यहां खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा खाद्य पदार्थो में मिलावट आदि के विरूद्ध चलाये गये विशे छापामार अभियान की उच्च स्तरीय समीक्षा कर रहीं थीं। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार खाद्य पदार्थो में मिलावट तथा नकली औषधियों के निर्माण को गम्भीरता से लेते हुए नये विभाग का गठन किया है। उन्होंने कहा कि विभाग के अधिकारी मिलावटखोरी में लिप्त लोगों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करने में कतई हिचके नहीं। उन्होंने  स्पष्ट तौर पर निर्देश दिए कि खाद्य पदार्थो की बढ़ती हुई मांग को दृष्टिगत रखते हुए अपमिश्रण की संभावनाओं पर पूरी तरह से रोक लगाने के लिए प्रभावी कदम उठाकर जनता को राहत पहुंचाए और उनमें भरोसा पैदा करें।

समीक्षा बैठक में मुख्यमन्त्री को प्रमुख सचिव खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग श्री डी0एस0मिश्र ने अवगत कराया कि विभाग द्वारा 22 फरवरी से 08 मार्च तक खाद्य पदार्थो में मिलावट के विरूद्ध विशेश छापामार अभियान चलाया गया। जिलाधिकारियों के नेतृत्व में चलाये गये अभियान में नगर मजिस्ट्रेट, स्थानीय (स्वास्थ्य) प्राधिकारी तथा मुख्य खाद्य निरीक्षकों/खाद्य निरीक्षकों ने सक्रिय रूप से भाग लिया। अभियान के दौरान विभिन्न जिलों में 56 मिलावटखोरों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। खाद्य पदार्थो के 3439 नमूने एकत्र कर जांच के लिए प्रयोगशालाओं में भेजे गये। उन्होंने बताया कि विभिन्न खाद्य पदार्थो के उत्पादक एवं विक्रय इकाइयों पर 3476 छापे मारे गये। विभिन्न अधिनियमों के तहत 47 लोगों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी गई है। इस अभियान के दौरान एक करोड़ रूपये मूल्य से अधिक की अपमिश्रित खाद्य सामग्री जब्त अथवा नश्ट की गई। जब्त की गई अपमिश्रित खाद्य सामग्री में विभिन्न प्रकार के खाद्य तेल, नकली घी, दूध एवं दूध से बने उत्पाद शामिल हैं।

प्रमुख सचिव ने यह भी अवगत कराया कि इस अभियान के दौरान ज्योतिबाफुले नगर से सबसे अधिक 09 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि जनपद वाराणसी में कई लाख रूपये के सबसे अधिक अपमिश्रित मसाले और जनपद गोरखपुर में अपमिश्रित खाद्य तेल जब्त किया गया। उन्होंने बताया कि विशेश अभियान के दौरान संग्रहित खाद्य पदार्थो के नमूनों की जांच की जा रही है और अब तक विश्लेशण में 37 प्रतिशत नमूने अपमिश्रित पाये गये। उन्होंने बताया कि राज्य मुख्यालय सहित सभी क्षेत्रीय प्रयोगशालाओं को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि सभी नमूनों का विश्लेशण/जांच 26 मार्च तक अवश्य पूर्ण कर ली जाये, ताकि अपमिश्रित पाये गये नमूनों में संलिप्त अपराधियों के विरूद्ध सक्षम न्यायालय में मुकदमा दर्ज कराया जा सके।

ज्ञातव्य है कि अभियान के दौरान जनपद जालौन में 348 निरीक्षण किए गये, 45 छापे मारे गए तथा 25 नमूने संग्रह किए गए। यहॉं से एक व्यक्ति की गिरफ्तारी की गई तथा इस दौरान 217 किग्रा नकली घी, 60 किग्रा खोया तथा 375 लीटर दूध लगभग 8,40,500 रु0 मूल्य के खाद्य पदार्थ नश्ट/जब्त किए गए। अभियान के दौरान गोरखपुर में 40298 लीटर खाद्य तेल लगभग 2493500 रु0 का जब्त किया गया। इसी प्रकार वाराणसी में 1142506 रु0 का 15306 किग्रा मसाला जब्त किया गया। अभियान के दौरान सर्वाधिक मेरठ से 08, गाजियाबाद से 04, जेपी नगर से 09 लोगों को गिरफ्तार किया गया। हरदोई जनपद से 16980 लीटर खाद्य तेल लगभग 1053000 रु0 का जब्त किया गया।

प्रमुख सचिव ने कहा कि खाद्य पदार्थो एवं औषधियों में मिलावट एवं उनकी अधोमानक बिक्री के विरुद्ध आगे भी जोरदार अभियान चलाया जाएगा और इसके लिए जिम्मेदार लोगों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही करने में कोई कोताही नहीं की जाएगी।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com