दंत चिकित्सा की नई तकनीक लायेगी खुशियां

0
191

दांत की बीमारियों व इससे संबंधित जानकारी देने के लिये दंत विशेषज्ञों की तीन दिवसीय कार्यशाला शुरू हुई। तीन दिवसीय कार्यशाला का शुभारंभ दीन दयाल शोध संस्थान के प्रधान सचिव डा. भरत पाठक ने किया। फ्रांस से आये दंत विशेषज्ञ हगीज बोरी सभी चिकित्सकों को डेंटल लैब में प्रोजेक्टर के सहारे महत्वपूर्ण जानकारी देते रहे। उन्होंने नई बत्तीसी बनाने की तकनीक दिखाते हुये कहा कि अब जल्द ही इसका प्रयोग शुरू हो जायेगा। दीन दयाल शोध संस्थान के डा. वरुण गुप्ता ने कहा कि विदेशों से आयी नई तकनीक को संस्थान बेहद सस्ते में मरीजों को उपलब्ध करा रहा है। दंत विभाग के प्रभारी डा. गुप्ता ने बताया कि नई तकनीक का प्रयोग करने के लिये दो रोगियों का चयन कर लिया गया है।

NO COMMENTS