तादाद से ज्यादा मूर्ति विसर्जन से जल संरक्षण को खतरा

0
161

नवरात्रि के पर्व पर अहम की होड़ में गली कूचों में जगह-जगह रखी जाने वाली मूर्तियों की संख्या जहां एक ओर तादाद से ज्यादा बढ़ी है वहीं तालाब, नदियों में मूर्तियों के विसर्जन से जल संरक्षण पर भारी कुठाराघात हुआ है। लोगों को चाहिए कि जगह-जगह मूर्तियां सजाने के स्थान पर मंदिरों में ही पूजा अर्चना करे जिससे बढ़ते जल प्रदूषण को रोका जा सके।

NO COMMENTS