झाँसी पुलिस पर वर्दी का नशा

0
200

झांसी में पुलिस पर वर्दी का नशा जोरो पर है प्रेमनगर थाने में पदस्थ एक दारोगा ने रेलवे क्वार्टर पर कब्जा जमा लिया। सूचना मिलने पर पहुंची आरपीएफ व रेलवे के अफसरों पर दारोगा ने जमकर रौब झाड़ा। साथ ही क्वार्टर खाली न करने की धमकी भी दे डाली। झगड़े के अंदेशा को देख आरपीएफ व अफसर वापस लौट गए। उन्होंने उच्चाधिकारियों को मामले की जानकारी दे दी है।

रानी लक्ष्मीबाई पश्चिम रेलवे कालोनी स्थित एम ए टाइप क्वार्टर संख्या 584 ए पर प्रेमनगर थाने में पदस्थ एक दारोगा ने कब्जा जमा लिया है। यह क्वार्टर स्टेशन प्रबंधक के अंडर में काम करने वाले एक कर्मचारी को अलॉट किया गया था, लेकिन उसकी मृत्यु होने के कारण पिछले काफी समय से यह खाली पड़ा था। मंगलवार को दारोगा अपना सामान शिफ्ट करने के लिए क्वार्टर में पुताई करा रहा था। इधर, कब्जे की सूचना मिलने पर दोपहर के समय संबंधित क्षेत्र के चीफ आईओडब्लू एस पी गुप्ता, आईओडब्लू सुरेश कुमार सुड़ेले व आरपीएफ उपनिरीक्षक वी के यादव टीम के साथ मौके पर पहुंच गए। आरपीएफ ने दारोगा को बुलाकर क्वार्टर खाली करने को कहा तो उसने चार पुलिस कर्मियों को और बुला लिया। इसके बाद दारोगा ने कहा कि उसकी चाहे जहां शिकायत कर दो वह क्वार्टर खाली नहीं करेगा। इस कारण दोनों पक्षों में तू तू मैं मैं की स्थिति बन गई। इस दौरान आईओडब्लू ने घटना का विवरण एक पत्र में लिखकर एक कर्मचारी को प्रेमनगर थाने भेजा, लेकिन वहां पुलिस ने उसकी एक न सुनी और न ही उससे पत्र लिया। बाद में कर्मचारी ने मौके पर पहुंचकर स्थिति से अवगत कराया। इसके बाद झगड़े के अंदेशा को देख आरपीएफ व अफसर वापस लौट गए। आरपीएफ ने मामले से पुलिस कंट्रोल, पुलिस अफसरों व अपने उच्च अधिकारियों को अवगत करा दिया है।

मालूम हो कि, पिछले दिनों आरपीएफ ने आधा दर्जन क्वार्टरों में अनधिकृत रूप से रह रहे लोगों को कड़ी मशक्कत के बाद हटाया था

Vikas Sharma
Editor
www.upnewslive.com ,
www.bundelkhandlive.com ,
E-mail : vikasupnews@gmail.com,
editor@bundelkhandlive.com
Ph- 09415060119