जागरूकता के लिए बच्चों ने रैलिया निकाली

0
206

ललितपुर- 6 से 14 आयुवर्ग के बच्चों का दाखिला निकटवर्ती विद्यालय में शत-प्रतिशत रूप से कराए जाने के उद्देश्य से ब्लॉक मुख्यालयों पर रैलिया निकाली गयीं। बच्चों ने अपने हाथों में तख्तिया लेकर ग्रामीणों को शिक्षा का महत्व बताया। रैलियों के पश्चात ब्लॉक परिसरों में आयोजित कार्यक्रम मे दौरान वक्ताओं ने शिक्षा का महत्व बताया।

विकास खण्ड जखौरा परिसर में सहायक बेसिक शिक्षाधिकारी ब्रह्म नारायण श्रीवास्तव व खण्ड विकास अधिकारी की मौजूदगी में कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। इस दौरान अभिभावकों से अपने बच्चों को प्रत्येक दशा में विद्यालयों में भेजने की अपील की गयी। इसके पूर्व कस्बा के परिषदीय विद्यालयों के बच्चों ने रैली निकाली। इस मौके पर सहायक खण्ड विकास अधिकारी नाथूराम, न्याय पंचायत प्रभारी सुनील कौशिक आदि प्रमुख रूप से मौजूद थे। विकास खण्ड विरधा में भी स्कूली बच्चों ने रैली निकाली। ब्लाक प्रमुख जयराम सिंह निरजन ने हरी झण्डी दिखाकर रैली को रवाना किया। रैली का समापन पूर्व माध्यमिक विद्यालय में सम्पन्न हुआ। इस मौके पर किसान इटर कालेज विरधा के प्रधानाचार्य राजकुमार शर्मा के अलावा ब्लाक प्रमुख ने शिक्षा का महत्व बताते हुए बच्चों को शिक्षित बनाने का आह्वान किया।

वक्ताओं ने कहा कि पढ़े लिखे लोगों की मौजूदगी से ही किसी राष्ट्र की प्रगति की दिशा निर्धारित होती है। शिक्षा का मकसद सम्पूर्ण विकास करना है। एक अनपढ़ परिवार तथा एक शिक्षित परिवार के जीवन यापन में काफी अंतर रहता है। ग्रामीणों को चाहिए कि वह अपने बच्चों को अज्ञानता के अंधकार से जूझने के लिए न छोड़ें वरन उन्हे ज्ञान की रोशनी दिलाने का काम करे। शिक्षक सभी बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार द्वारा भी तरह-तरह की योजनायें चलायी जा रही है। उन्होंने उपस्थित लोगों से आह्वान किया कि अपने सम्पर्क में आने वाले ग्रामीणों को प्रेरित किया जाये कि वह 14 वर्ष तक के बच्चों को निकटतम विद्यालय में पढ़ाई के लिए अवश्य भेजें।

न्याय पंचायत संसाधन केन्द्र ननौरा पर भी स्कूल चलो अभियान के तहत रैली निकाली गयी। इसके पश्चात गोष्ठी सम्पन्न हुई। इसमें ग्राम पंचायत के पदाधिकारी ने प्रमुख रूप से शत-प्रतिशत नामाकन का आह्वान किया। वक्ताओं ने कहा कि शिक्षा से ही विकास के द्वार खुलते है। बच्चों को निकटतम विद्यालय में अवश्य नामाकित कराया जाए।