ग्राम पंचायत सचिवों का वेतन कटेगा

0
234

सागर- कलेक्टोरेट सभाकक्ष में हुई नरेगा की समीक्षा बैठक में कलेक्टर हीरालाल त्रिवेदी ने निर्देश दिए कि नरेगा के तहत जिले की जिन ग्राम पंचायतों में एमआईएस के डाटाबेस पूरे नहीं होंगे उन ग्राम पंचायतों के सचिवों के वेतन में कटौती की जाएगी।

कलेक्टर ने एक अनुविभागीय स्तर के अधिकारी द्वारा गणना करके सही आंकड़े प्रस्तुत नहीं किए जाने पर नाराजगी जताई और नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। त्रिवेदीं ने कहा कि निर्धारित से अधिक राशि का भुगतान होने पर प्रकरण में संबंधित अधिकारी के वेतन से वसूली की जाएगी।

जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री त्रिपाठी ने कहा कि जनपद पंचायत कार्यालयों द्वारा जिला मुख्यालय के कार्यालयों को आनलाइन जानकारी देने के लिए संबंधित कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा । कलेक्टर ने उत्तर वन मंडल, दक्षिण वन मंडल और जल संसाधन संभाग क्रमांक-1 के तहत स्वीकृत कार्यो में से लंबित कार्यो की विस्तृत जानकारी देने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए और जल संसाधन संभाग क्रमांक-दो के तहत धीमी गति से कार्य होने पर चिंता जताई।

कलेक्टर ने कहा कि जो व्यक्ति नरेगा के तहत कार्य करना नहीं चाहता उन व्यक्तियों के जॉब कार्ड निरस्त किए जाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि नरेगा के तहत 10 लाख रुपए से अधिक राशि के स्वीकृत कार्यो की वीडियोग्राफी कराई जाए और इसकी एक-एक सीडी कलेक्टोरेट, संबंधित जनपद पंचायत कार्यालय और ग्राम पंचायत कार्यालयों में उपलब्ध कराई जाए। 21 एवं 22 अक्टूबर को होने वाली ग्राम सभा की कार्रवाई का विवरण तैयार करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए।