कैडेटों को युद्ध कौशल की तकनीक बतायी

0
91

उरई- शनिवार को पालीटेक्निक परिसर में चल रहे 58 वी बटालियन के एनसीसी शिविर में  कैडेटों को सैन्य प्रशिक्षण के अंतर्गत युद्ध कौशल में पारंगत करने की तकनीक बतायी गयी। इसके साथ ही मवई के जंगल में निशानेबाजी का प्रशिक्षण भी दिया गया।

सुबह के सत्र में सूबेदार मेजर सीबी गुरुंग ने रणक्षेत्र में फायर कंट्रोल आर्डर के माध्यम से दुश्मन पर हमले की कार्रवाई की विस्तार पूर्वक जानकारी दी। सूबेदार तमर संग चापा ने बताया कि लड़ाई के दौरान सेना की सबसे छोटी टुकड़ी सेक्शन, विभिन्न प्रकार की पोजीशन अतिरिक्त वार तक सकती है। थापा ने सभी प्रकार के सेक्शन, फार्मेशन का ग्राउंड में कैडेटों से प्रदर्शन कराया। चार्ली कंपनी के कंपनी कमांडर एसपीएस चौहान के नेतृत्व में 110 कैडेटों ने मवई के जंगल में निशानेबाजी का अभ्यास किया। यहां सूबेदार एलबी काई व यम बहुदार गुरुंग ने सफल निशानेबाजी के गुर बताये। इसके पहले सुबह- सुबह पतंजलि योग संस्थान के जिला संयोजक महेद्र विक्रम सिंह व स्काउट कमिश्नर ममता स्वर्णकार ने योग और व्यायाम के माध्यम से कैडेटों को ताजा दम किया। बौद्धिक परिचर्चा में कैप्टन शिवकुमार सिंह ने एकता और नेतृत्व विषय पर विस्तृत व्याख्यान दिया। इस अवसर पर मेजर एसबी पांडेय, ओपी गुप्ता, मेजर डा. रविशंकर अग्रवाल, कैप्टन बीके द्विवेदी,, कुंवर सिंह, गुलाब सिंह, अनुरुद्ध द्विवेदी, रामपाल सिंह, नवेंद्र सिंह, कोमल सिंह, देवेंद्र यादव सहित कई लोग उपस्थित थे।

NO COMMENTS