किसान मेला का आयोजन किया गया

0
252

चित्रकूट- एक दिवसीय किसान मेला व प्रदर्शनी का आयोजन कृषि विभाग द्वारा किसानों को  जानकारी देने के लिए किया गया। मेले मे जिलाधिकारी  ने कहा कि कम बरसात होने के बावजूद किसान उन्नतिशील बीज व खाद का प्रयोग करके अच्छी उपज प्राप्त कर सकते हैं।

मुख्यालय के राजकीय बालिका इंटर कालेज प्रांगण में आयोजित मेला व प्रदर्शनी का उद्घाटन करने के बाद जिलाधिकारी हृदेश कुमार ने कहा कि अच्छी खेती के लिये जरुरी है कि किसान अपनी भूमि को पहचान कर उसके अनुरूप खेती करे। उन्नतिशील बीज व उर्वरक की जानकारी करके उपज को बढ़ाये। जिलाधिकारी ने किसानों को सलाह दी कि अब खेती परंपरागत तरीके से नहीं वरन आधुनिक तकनीक से करें।

उप कृषि निदेशक मो. आरिफ सिद्दीकी ने कहा कि कम बरसात होने से किसानों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। खरीफ की सफल को बचाने के तरीके बताये जा रहे हैं जिसका लाभ उठाकर किसान फसल पा सकते है। कृषि अधिकारी एच एन सिंह ने कहा कि किसान कम पानी वाली फसलों को आधुनिक तरीके से करे। किसी भी समस्या से निपटने के लिये विभाग किसानों के साथ है। जिला अग्रणी प्रबंधक अमरेश कुमार, पशु चिकित्साधिकारी पी के प्रधान व कृषि वैज्ञानिक नरेंद्र सिंह ने भी किसानों को महत्वपूर्ण जानकारी दी।

इसके पूर्व जिलाधिकारी ने कृषि प्रदर्शनी का अवलोकन किया। तुलसी विज्ञान केंद्र गनीवां, कृषि विभाग, दीनदयाल शोध संस्थान के उद्यमिता विद्यापीठ, यूपी स्टेट एग्रो, रामगंगा कमांड, मत्स्य पालन, पशु पालन, फल संरक्षण व उद्यान विभाग की प्रदर्शनी में लगाये गये कृषि यंत्र, बीज, उर्वरक व अन्य सामग्री का बड़ी बारीकी से निरीक्षण किया। प्रदर्शनी में सबसे बड़ा आकर्षण क्षेत्र में नारियल का पेड़ था। सिद्धपुर के किसान आर के सिंह ने ऐसे पेड़ को लगाकर सबको हैरत में डाल दिया।