किसान भुखमरी की कगार पर

0
208

शहजाद बाँध परियोजना के अन्तर्गत डूब क्षेत्र में आये किसानों की जमीनों का अब तक मुआवजा वितरित नहीं किया गया। मुआवजा राशि नहीं मिलने से क्षेत्र के किसान भुखमरी की कगार पर पहुँच गये है। इस मामले को लेकर कांग्रेस के एक प्रतिनिधि मण्डल ने अपर जिलाधिकारी महेश प्रसाद को ज्ञापन सौंपकर उचित मुआवजा की माँग की और चेता दिया कि यदि समस्या का समाधान नहीं किया गया तो काग्रेसी भूख हड़ताल और आमरण अनशन करेगे।

प्रदेश कांग्रेस कमिटि के सदस्य रामस्वरूप देवलिया के नेतृत्व में सौंपे गये ज्ञापन में कहा गया कि ग्राम जमालपुर, हर्षपुर, सेरवास, बसतगुवाँ, टेटा, मथुरा, सेमरा, कलोथरा, बरीकला आदि ग्रामों की भूमि व अचल सम्पत्ति शहजाद बाँध परियोजना के अन्तर्गत डूब में आने के कारण किसानों को मुआवजा राशि का वितरण नहीं किया गया। इसके अलावा भूमि भराव के बावजूद कुछ किसानों की भूमि अधिगृहीत न किये जाने के सम्बन्ध में भी अवगत कराया गया। ज्ञापन में कहा गया कि उक्त गाँवों के किसान आर्थिक रूप से बेहद कमजोर है और मुआवजा राशि वितरण नहीं किये जाने से उनके समक्ष परिवार के भरण पोषण का खतरा मंडरा रहा है। लिहाजा उक्त समस्याओं को गम्भीरता से लेते समस्या का समाधान कराया जाये और यदि समस्याओं का समाधान नहीं किया गया तो कांग्रेसी भूख हड़ताल और आमरण अनशन करेगे। ज्ञापन पर सासद प्रतिनिधि जसपाल सिंह बन्टी, जिला बार असोसिएशन के उपाध्यक्ष दिनेश गोस्वामी, हरीबाबू शर्मा, रामबाबू अगिन्होत्री, के.पी. राजा, विजय तिवारी, लखनलाल, संजय त्रिवेदी, अजय तिवारी, दिलीप चौधरी, केहरसिंह परमार, लक्ष्मनलाल यादव, सुम्मेर सिंह परमार, बृजमोहन शर्मा, ने हस्ताक्षर किये।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com