उ.म.रे.इलाहाबाद जी.एम. आलोक जौहरी ने दी मऊ स्टेशन को सौंगाते

0
257

जांच में सब ठीक मिला मौके पर इनाम दिया

उत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक आलोक जौहरी दोपहर 17 डिब्बों की निरीक्षण यान स्पेशल ट्रेन से मऊरानीपुर आये। उनके साथ सैंकडों अधिकारी, कर्मचारियों ने मऊरानीपुर स्टेशन पर आकर जायजा लिया। यात्री प्रतीक्षालय, शौचालयों का उद्घाटन महाप्रबन्धक ने फीता काटकर किया। स्टेशन की सफाई, व्यवस्थाओं को देखा। शान्ति वाटिका में पौधारोंपण किया। कैण्टीन पर एमआरपी रेट लिखने के निर्देश दिये। आरपीएफ चैकी, टिकट खिडकी, कार्यालय के हालातों को देखा। 45 मिनट तक चले इस निरीक्षण के बाद महाप्रबन्धक ने स्टेशन प्रबन्धन को चार हजार रूपये का सपोर्ट कैश अवार्ड दिया। जिसे पाकर स्टेशन स्टाफ गदगद हो गये। मऊरानीपुर वासियों की तरफ से 11 सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन दिया गया।  पूर्व में मण्डल रेल प्रबन्धक नवीन चोपडा ने मऊरानीपुर रेलवे स्टेशन आकर यहां की व्यवस्थाओं, गंदगी का नजारा देखा था। जिसके बाद दिन-रात चले सफाई, पुताई, निर्माण कार्य ने स्टेशन को जगमग कर दिया था। सुबह तक रेलवे के कर्मचारी तैयारियों को अन्तिम रूप देने में लगे रहे।दोपहर पौने बारह बजे रेलवे अधिकारियों का दल स्पेशल ट्रेन से मऊरानीपुर आया। महाप्रबन्धक आलोक जौहरी ने स्टेशन पर गणेश प्रतिमा का पूजन-पाठ कर नवीन यात्री प्रतीक्षालय का फीता काटकर, शिलालेख का अनावरण कर शुभारम्भ किया। इसके साथ ही पुरूष, महिला शौचालयों में जाकर वहां के निर्माण कार्य को देखा। इसको खेाले जाने के निर्देश जारी किये। अधिकारियों के दल ने आरपीएफ चैकी की व्यवस्था, टिकट खिडकी की दिक्कतों को देखा।

स्टेशन प्रांगण में स्थित शांति वाटिका में अधिकारियों का दल पहंुचा। जहां पर रेलवे के प्रमुख अधिकारी महाप्रबन्धक आलोक जौहरी, महाप्रबन्धक सचिव ए. के. गुप्ता, प्रमुख मुख्य अभियंता सतीश कुमार, मुख्य परियोजना प्रबन्धक एस. के. सिंह, मुख्य विकास अभियंता ए.के. रावत, मुख्य सुरक्षा अधिकारी आर.एस. वर्मा, मुख्य यान्त्रिक अभियंता सैयद कबीर अहमद, मुख्य वाणिज्य प्रबन्धक सी.एस. चैहान, मुख्य कार्मिक अधिकारी ओमप्रकाश, दूरसंचार अभियंता आनन्द कुमार, मुख्य स्वास्थ्य निदेशक डाॅ. सी.डी. सक्सेना, रेलवे सुरक्षा आयुक्त आर.के. बाजपेई, मुुख्य सुरक्षा आयुक्त अनूप श्रीवास्तव, मुख्य प्रबन्धक अधिकारी निर्माण वी.के. गोयल, मुख्य अभियंता पी एण्ड सी के डी रल्ह, मण्डल रेल प्रबन्धक नवीन चोपडा, मुख्य लेखाधिकारी अप्ला सिंह, मुख्य अभियंता निर्माण ए.के. मिश्रा, भण्डार नियन्त्रक ए.के. वाष्र्णेंय, संदीप माथुर ने एक एक पौधों का रोपण किया।जीएम ने टिकट लाइन में खडे कई यात्रियों से हो रही दिक्कतों के संबन्ध मंे बात की। इसके बाद स्टेशन कार्यालय तथा बाहर रखी तमाम पत्रावलियों का अवलोकन किया। कैण्टीनों पर जाकर रेट लिस्ट बोर्ड पर सामानों की एमआरपी लिखने के निर्देश दिये। प्लेटफार्म पर लगे टीनशेड की व्यवस्था को देखा। स्टेशन पर सब कुछ उन्हंें ठीक ठाक दिखा।जाते जाते महाप्रबन्धक आलोक जौहरी ने मऊरानीपुर स्टेशन प्रबन्धक एस.एस. श्रीवास्तव को चार हजार रूपये सपोर्ट कैश अवार्ड के रूप में दिये। स्टेशन का स्टाफ इनाम पाकर खुशी का इजहार करता नजर आया। जीएम का निरीक्षण सकुशल होने पर मऊरानीपुर स्टेशन महकमें ने राहत की सांस ली। इसके बाद 17 डिब्बों की स्पेशल ट्रेन महांेबा की ओर साढे बारह बजे रवाना हो गयी।मऊरानीपुर स्टेशन प्रशासन को महाप्रबन्णक ने जहां चार हजार रूपये इनाम के रूप में दिये। इसके साथ ही मऊरानीपुर का वेस्ट मेंटीनेंस सेक्सन के लिये पीके मुगदल को 2 हजार रूपये का, रोरा के पास स्थित धसान पुल का वेस्ट मंेटीनेंस के लिये वहां की देखरेख कर रहे कर्मचारी को 2 हजार रूपये, ओरछा-बरूआसागर के बीच बना नया गेट नम्बर 374 के लिये वहां तैनात कर्मचारी को 1 हजार रूपये, 123 नम्बर गैंग यूनिट मेट ठाकुरदास को 2 हजार रूपये का पुरस्कार दिया।