आठ साल का भाई बना बहन का कातिल…..

0
359
महोबा: कहते है सावधानी हटी दुर्घटना घटी। यह कहावत बुन्देलखण्ड में महोबा जनपद के ग्राम पठा में नजर आयी। जहां एक भाई अपनी ही बहन का कातिल बन गया। दरअसल खेलते समय एक मासूम बच्चे के हाथ तमंचा लग गया और चल गया। तमंचे से निकली गोली उसकी बहन को जा लगी और उसकी उपचार के दौरान मौत हो गयी।
महोबा जनपद के ग्राम पठा खरेला निवासी वीरेन्द्र की सात वर्षीय बेटी साक्षी अपने 8 वर्षीय चचेरे भाई के साथ घर में खेल रही थी। इसी दौरान घर में रखा एक अवैध तमंचा साक्षी के भाई के हाथ लग गया। जिसे खिलौना समझकर वह खेलने लगा। खिलौना समझकर तमंचे से खेल रहे साक्षी के भाई से तमंचा चल गया और तमंचे से निकली गोली साक्षी को जा लगी। गोली चलने की आवाज सुनकर घर के अन्य सदस्य भागे और देखा तो साक्षी खून से लथपथ पड़ी हुयी थी। आनन-फानन में परिजन उसे नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र ले गये। जहां हालत गम्भीर होने के कारण उसे झांसी मेडिकल कालेज रेफर कर दिया। यहां उसकी उपचार के दौरान मौत हो गयी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है।