अम्बेडकर गावों के विकास के साथ खिलवाड़ क्षम्य नहीं- आयुक्त

0
220

ललितपुर- मण्डलायुक्त झासी टी.पी.पाठक ने एक दिवसीय जनपद भ्रमण के दौरान 2008-09 में चयनित अम्बेडकर ग्राम पाचौनी में विभिन्न योजनाओं का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान शौचालय गिरने की शिकायत भी मिली। जिसमें उन्होंने कहा कि गुणवत्ता के साथ खिलबाड़ बर्दाश्त नहीं होगा। विभिन्न योजनाओं के तहत निर्मित किये गए मकान व शौचालय 40 वर्ष तक नहीं गिरना चाहिए। ऐसे मकानों का निर्माण किये जाने पर सम्बंधित लोगों के खिलाफ कार्यवाही होगी। मण्डलायुक्त को नरेगा मजदूरों ने समस्या बतायी। अधिकाश लोग जॉब कार्ड नहीं बनाने की बात कह रहे थे। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों के जॉब कार्ड बनाकर तत्काल कार्य दिये जाने के निर्देश दिए।

विकास खण्ड जखौरा अंतर्गत ग्राम पाचौनी के पूर्व माध्यमिक विद्यालय में मण्डलायुक्त ने शासन द्वारा क्रियान्वित विभिन्न कार्यक्रमों व योजनाओं का चौपाल लगाकर भौतिक सत्यापन किया। उन्होंने कहा कि एपीएल कार्डधारक 250 रुपये जमा कर अपने घर में विद्युत कनेक्शन ले सकते है। उन्होंने गाव में निर्मित किये गए सीसी रोड, नाली, शौचालय आदि की स्थिति को भी देखा। 92 शौचालय तैयार मिले, जबकि 49 निर्मित नहीं किये गए। इन्दिरा आवास के अलावा हैण्डपम्प छात्रवृत्ति की स्थिति संतोषजनक पायी। चौपाल की खास बात यह रही कि ग्रामीणों ने मण्डलायुक्त को जॉब कार्ड दिखाये जिन पर काम नहीं मिल रहा था तथा जॉब कार्ड बनाये जाने की भी माग की। ग्रामीणों की इस माग को मण्डलायुक्त ने तत्काल पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को हिदायत दी कि मजदूरों के जॉब कार्ड बनाकर उन्हे नरेगा के तहत कार्य दिया जाए। उन्होंने पट्टा आवंटन, विकलाग, विधवा, वृद्धावस्था पेंशन की भी समीक्षा की। जिसमें पाया गया कि 42 लोगों को वृद्धावस्था पेंशन मिल रही है, जबकि 7 विधवा महिलाएं पेंशन पा रहीं है। ऐसे विकलाग जिनकी उम्र 18 वर्ष से अधिक है और वह सर्टिफिकेट बनवा कर योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है।

मण्डलायुक्त ने इस मौके पर ग्रामीणों की विभिन्न समस्याओं को भी सुना। ग्रामीणों ने मण्डलायुक्त से पेंशन देने के अलावा अन्य योजनाओं का लाभ वरीयता से दिये जाने की माग उठायी। उन्होंने सम्बंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि पात्रों को योजना का लाभ वरीयता से दिया जाए। निर्माणाधीन पंचायत भवन का भी निरीक्षण किया। जिसमें छत निर्मित नहीं मिली। उन्होंने इस अवशेष कार्य को पूरा करने के अलावा पंचायत भवन में खडे़ पेड़ को न काटे जाने की हिदायत दी। इस मौके पर जिलाधिकारी रणवीर प्रसाद, मुख्य विकास अधिकारी बुद्धिराम, जिला विकास अधिकारी शम्भू नाथ तिवारी आदि प्रमुख रूप से मौजूद थे।