अब गर्मियों में पीने के पानी के लिए नहीं भटकना पड़ेगा

0
165

रक्सा व करगुवां क्षेत्र में रहने वाले ग्रामीणों को अब गर्मियों में पीने के पानी के लिए नहीं भटकना पड़ेगा। जल्द ही उनके घरों में नल की टोंटी से पानी की धार बहेगी। प्रदेश सरकार ने ग्रामीण पाइप पेयजल योजना के तहत बयालीस करोड़ बत्तीस हजार रुपये की दो महत्वाकांक्षी परियोजनाओं को हरी झंडी दे दी है। इन परियोजनाओं पर जल्द ही काम शुरू होने वाला है।
जिले का रक्सा पेयजल ग्रस्त क्षेत्र में आता है। इस ग्राम पंचायत से लगी आधा दर्जन ग्राम पंचायतों में बुरा हाल है। गर्मियों में इन गांवों में एक – एक बाल्टी पानी के लिए मारामारी होती है। पानी के टैंकर तक लूट लिए जाते हैं। लोगों को एक बाल्टी के लिए दस रुपये तक खर्च करने पड़ते हैं। कुछ ऐसा ही हाल मोंठ विकासखंड के करगुवां खुर्द का है। इन गांवों में पेयजल समस्या दूर करने के लिए बुंदेलखंड पैकेज से पहल की गई थी। 25 नवंबर 2011 तक टेंडर मांगे गए थे, लेकिन टेंडर न आने से परियोजनाएं शुरू नहीं हो सकीं। इन परियोजनाओं को पूरा कराने के लिए प्रदेश सरकार ने जल निगम को जिम्मेदारी सौंप दी है। छह दिसंबर को मुख्यमंत्री ने लखनऊ में इन परियोजनाओं का शिलान्यास भी कर दिया।
इस समय रक्सा एवं करगुंवा खुर्द के पेयजल संकट गांवों की आबादी अठारह हजार मानी जा रही है, जिसके 2043 में पच्चीस हजार होने की संभावना है। सरकार ने तीस वर्षों को ध्यान में रखते हुए दीर्घकालीन परियोजना पर काम करने के निर्देश दिए हैं। करगुंवा खुर्द के लिए 20 करोड़ 92 लाख रुपये स्वीकृत किए गए हैं। यहां इंटेक वैल (बड़ा पंपहाउस) बनाया जाएगा। फिर बेतवा नदी से पानी लाकर वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में डाला जाएगा, जहां पानी को फिल्टर कर टंकियों के माध्यम से घर – घर पहुंचाया जाएगा। करगुवां पेयजल योजना से करगुवां खुर्द, बघेरा, सेमरी, बेंदा, खलार, जौरी, खिरदापुर, पिपरा व खिल्लावारी गांवों में सत्तर किलोमीटर पाइप लाइन डाली जाएगी तथा तीन गांवों में जल एकत्र करने के लिए सीडब्लूआर (जमीनी हौद) बनाए जाएंगे।
रक्सा पेयजल योजना को सिजवाहा बांध से जोड़ा जाएगा। डेली में ट्रीटमेंट प्लांट लगाकर पानी शुद्ध किया जाएगा तथा ओवरहैड टैंक बनाकर डेली, रक्सा, अठोंदना व सिजवाहा में पेयजलापूर्ति की जाएगी। इस परियोजना पर 21 करोड़ 40 लाख रुपये की लागत आंकी गई है। जल निगम के अधिकारियों का मानना है कि दोनों परियोजनाएं जून 2012 तक पूरी हो जाएंगी।

Vikas Sharma
Editor
www.upnewslive.com ,
www.bundelkhandlive.com ,
E-mail : vikasupnews@gmail.com,
editor@bundelkhandlive.com
Ph- 09415060119