अफसर दिखा रहे हैं निर्वाचन आयोग को ठेंगा

0
155

भारत निर्वाचन आयोग के स्पष्ट निर्देशों के बाद भी विभागाध्यक्ष अनुमति लिए बिना बूथ लेवल आफीसरों के तबादले और निलंबन कर रहे हैं। कर्मचारी को पद से हटाने के बाद प्रशासन को भी अवगत नहीं कराया जा रहा है। जिस्शे काम प्रभावित हो रहा है।

निर्वाचन आयोग ने मतदाता सूची व चुनाव से संबंधित सभी कामों को अंजाम देने के लिए विभिन्न विभागों के कर्मचारियों व शिक्षकों को बूथ लेवल आफीसर नियुक्त करते हुए निर्देश दिया था कि इनका तबादला अथवा कार्रवाई बिना अनुमोदन के न की जाए। आयोग के स्पष्ट आदेश के बाद भी शिक्षा विभाग, सिंचाई विभाग में तैनात कर्मचारियों के तबादले व निलंबन किए जा रहे हैं। नियमत: स्थानांतरण अथवा निलंबन की जद में आने वाले कर्मचारियों पर कार्रवाई प्रस्तावित कर जिलाधिकारी के माध्यम से आयोग के पास भेजनी चाहिए, लेकिन ऐसा नहीं किया जा रहा है। इसका नतीजा यह निकल रहा है कि एक बूथ लेवल आफीसर हटने के बाद पूरा क्षेत्र खाली पड़ा रहता है।

इस मामले में अपर जिलाधिकारी/ उप जिला निर्वाचन अधिकारी उदयभानु त्रिपाठी ने कहा की संबंधित विभागाध्यक्ष से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा। यदि उत्तर संतोषजनक नहीं होता है तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई प्रस्तावित कर दी जाएगी।

Vikas Sharma
Editor
www.upnewslive.com ,
www.bundelkhandlive.com ,
E-mail : vikasupnews@gmail.com,
editor@bundelkhandlive.com
Ph- 09415060119